सेक्स रैकेट : झूठी शिकायत की जांच के बाद जिस्मफरोशी के धंधे का खुलासा, 6 युवतियों सहित 9 गिरफ्तार

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर पुलिस की डायल 100 विंग को जब एक युवती द्वारा इस बात की शिकायत की गई कि उसके साथ किसी युवक ने जबरदस्ती की है तो हरकत में आई पुलिस ने तुरंत एक्शन लिया। वही पुलिस ने जब शिकायत पर जांच की तो एक बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हो गया।

यह भी पढ़ें… Commonwealth Games 2022 : विजय यादव ने जूडो में अपने नाम किया ब्रॉन्ज मेडल

जिस्मफरोशी के गोरखधंधे के खुलासे का मामला इंदौर के भंवरकुआं थाना क्षेत्र के नवलखा इलाके का है। जहां के इंदिरा काम्प्लेक्स के एक फ्लैट में करीब डेढ़ साल से देह व्यापार संचालित किया जा रहा है। बता दे कि सेक्स रैकेट सतना निवासी संतोष नामक युवक चलाता था जो दलाल के मार्फ़त इंदौर और मध्यप्रदेश के बाहर से लड़किया बुलवाता था। वही फोन के जरिये ग्राहकों से संबंध साधकर पसंद के मुताबिक लड़कियां मुहैया कराता था। पुलिस 3 युवक और 6 युवतियों को गिरफ्तार कर लिया है। वही एक दलाल अभी पुलिस गिरफ्त में आना बाकी है।
भंवरकुआं थाना प्रभारी शशिकांत चौरसिया ने बताया कि पुलिस को डायल 100 पर सूचना प्राप्त हुई थी जिसमे किसी लड़की ने खुद के साथ जबर्दस्ती होने की शिकायत की थी। इसके बाद भंवरकुआं थाना पुलिस महिला उपनिरीक्षक नलिन श्रीवास्तव ने जांच शुरू की और जांच में पता लगा कि जोर जबर्दस्ती का कोई मामला नही था बल्कि वेश्यावृत्ति का एक गिरोह है जो नवलखा क्षेत्र में कार्य कर रहा है।

यह भी पढ़ें… जबलपुर : हॉस्पिटल में अग्निकांड की होगी जांच, राज्य शासन नें जारी किए आदेश जारी,

पुलिस के मुताबिक शिकायत करने वाली लड़की उस गिरोह की एक सदस्य है और जिस पुरुष ने सेवाएं ली थी उस पर सेक्सटॉर्शन के इरादे से झूठा केस दर्ज कराने के लिए पुलिस को शिकायत की थी। वही पुलिस ने नवलखा क्षेत्र के इंदिरा काम्प्लेक्स के एक फ्लैट में छापा मारकर मौके से 3 पुरुष और 5 अन्य युवतियां वैश्यावृत्ति में लिप्त पाई गई। वही पुलिस ने झूठी शिकायत करने वाली गिरोह में शामिल युवती सहित सभी को गिरफ्तार कर लिया और प्रकरण दर्ज कर लिया। पुलिस ने बताया कि गिरोह में कुल 10 लोग शामिल है जिनमे 9 को गिरफ्तार कर लिया गया है वही गिरोह का मुख्य दलाल जो अलग – अलग शहरो और प्रदेशों से जिस्मफरोशी के लिए युवतियों और महिलाओं को हायर करता था वो अभी फरार है और पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। पुलिस गिरफ्त में आई युवतियों में 2 कोलकाता, 1 भोपाल, 1 लातूर, 1 मुंबई की वही पकड़े 3 पुरुष रीवा, सतना और खातेगांव के रहने वाले है जिनमें गिरोह का सरगना संतोष शामिल है जो कि सतना का रहने वाला है। उसी ने फ्लैट रखा था और करीब डेढ़ -दो साल से फ्लैट के भीतर ही फोन के जरिये ग्राहकों से संपर्क कर जिस्मफरोशी का धंधा संचालित करता आ रहा था। फिलहाल, मामले में 6 युवतियों और 3 पुरुष को गिरफ्तार कर पुलिस पूछताछ कर रही है और फरार दलाल की तलाश में पुलिस जुट गई है।