shobha-ojha-attack-on-bjp-

इंदौर| कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता शोभा ओझा ने आज बीजेपी और मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। ओझा ने ना सिर्फ केंद्र सरकार की वादा खिलाफी पर बीजेपी को घेरने की कोशिश की बल्कि प्रदेश में साध्वियों के विवाद के बाद मिलन को बीजेपी का बिखराव तक बता दिया। वही यह भी सवाल किया कि आरएसएस और हिंदू महासभा का आजादी के पहले क्या योगदान था | 

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी के संघर्ष के चलते अनगिनत शहादत दी है। वही उन्होने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि 2014 से लेकर अब तक पीएम मोदी के किए गए वादे सिर्फ जुमले साबित हुए है। ओझा की माने तो अच्छे दिन का वादा, 15 लाख रुपये हर देशवासी के खाते में, किसानो को लागत से दुगुनी आय देने का वादा और युवाओ को 2 करोड रोजगाद देने का वादा झूठा साबित हुआ है। वही मध्यप्रदेश के तारतम्य में ओझा ने बीजेपी की 15 साल की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेष में शिवराज सरकार के दौरान 15 सालों में किसानो की हालत कैसी हो गई ये सभी जानते है जबकि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने अपने किए हुए वादो के तहत किसानो का कर्जा माफ किया है। प्रदेश के 19 लाख से ज्यादा किसानो को नो ड्यूज सर्टिफिकेट मिल चुका है वही दूसरी और बचे हुए किसानों का भी कर्जा माफ किया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश में किसानो को सस्ती दर पर बिजली मिल रही है जो अब तक संभव नही हुआ था। 

इधर, भोपाल में दो साध्वियों के मिलन और फूट फूटकर रोने के सवाल पर ओझा ने साफ किया कि उमा भारती ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लेकर मूर्ख वाला तंज कसा था और ना सिर्फ उमा भारती, साध्वी प्रज्ञा ठाकुर बल्कि ताई और भाई, शिवराज सिंह चौहान और नरेंद्र सिंह तोमर आपस में लड़ रहे है। बीजेपी में बिखराव की स्थिति है। हालांकि ओझा ने उमा भारती और साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के मिलन को राजनितिक स्टंट करार दिया है। कुल मिलाकर ओझा ने यूपीए की सरकार बनने का दावा किया और बीजेपी पर कई सवाल उठाए।