दीपावली के नजदीक आते ही आर्थिक राजधानी में सजे बाजार, जमकर हो रही खरीददारी

इंदौर। आकाश धौलपुरे।

दीपावली के पर्व के चलते  बाजार सज चुके हैं इस बार पुष्य नक्षत्र का सयोंग 23 घण्टे तक बना है जिसके चलते बाजार में सोमवार और मंगलवार को जमकर खरीदी की गई। वर्षों बाद खरीदारी के महासंयोग बनने की वजह से लोग ना सिर्फ बाजारों का रुख कर रहे है, बल्कि जमकर खरीदारी भी कर रहे है। प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में पुष्य नक्षत्र और दीपावली के त्यौहार के मद्देनजर खासतौर पर बाजारों को रोशन किया गया है। विशेष साज-सज्जा करके सराफा बाजार, बर्तन बाजार, और कपड़ा बाजार सहित अन्य बाजारों को सजाया गया है, ताकि यहां आने वाले ग्राहक साज सज्जा देखकर खींचे चले आए। पुष्य नक्षत्र के मौके पर इंदौर में सोने चांदी के साथ वाहनों और बहीखातों की भी जमकर बिक्री हुई।आपको बता दे कि इस नक्षत्र में वाहन, मकान, कपड़े, सोना, बर्तन, भूमि, भवन आदि की खरीदारी करना अत्यंत शुभकारी माना जाता है। पुष्य नक्षत्र में सोना खरीदने का विशेष महत्व होता है। यह माना जाता है कि इस दिन अगर सोना खरीदा जाता है, तो सुख-समृद्धि आती है। बाजार में ग्रामीण शहरी क्षेत्र के लोगों के द्वारा त्योहारी समाान की खरीदारी की जा रही थी। जिसमें मुख्य रुप से घरों की साफ सफाई,रंगाई पुताई के साथ ही घर को सजाने वाली सामग्री की दुकानों पर आज से उठाव तेज हो गया है। पुताई के लिए पेंट,चूना,डिस्टेंपर सहित अन्य सामग्री की दुकानों पर भीड़ रही। वहीं घरों की सजावटी सामग्री की बिक्री भी तेज हो चली है। इसी के साथ अन्य दुकानदारों ने भी अपनी दुकानों को सजा कर त्योहारी सामान दुकान में भर लिया है।अब दीपावली में कुछ दिन ही शेष बचे हैं इसी को लेकर बाजार में पूरी तरह सजे हुए हैं हालांकि आर्थिक मंदी को देखते हुए माना जा रहा है कि हर साल के मुकाबले इस साल दीपावली पर ज्यादा ग्राहक की कि नहीं होगी परंतु परंतु जिस प्रकार बाजार में रौनक देखने को मिल रही है उससे व्यापारियों को उम्मीद बंधी है कि इस साल अच्छा व्यापार होगा ऑटोमोबाइल कपड़ा मार्केट सर्राफा बर्तन बाजार सहित सभी बाजार दीपावली को लेकर पूरी तरह तैयार है। बाजार में खरीदारी करने आने वाली महिलाओं का कहना है कि चाहे देश में आर्थिक संकट छाया हो परंतु उसके बाद भी सभी धूमधाम से दीपावली का पर्व मनाएंगे वही लोग जमकर खरीदारी करते हुए नजर आ रहे हैं।धनतेरस से लेकर भाई दूज तक मनाए जाने वाले इस बड़े त्योहार को लेकर खासा उत्साह इसलिए भी रहता है कि इसमें घरों को सजाने के लिए लोगों में विशेष लगाव रहता है। दीवाली का त्योहार धनतेरस, नरक चतुर्दशी, दीपावली पूजन, गोवर्धन पूजा अन्नकूट पूजन, और भाई दूज मनाए जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here