Indore News: सोशल मीडिया ने गुम हुई 3 साल की मासूम को 3 घण्टे में बुआ से मिलाया, ये है पूरा मामला

indore

इंदौर, आकाश धोलपुरे। आधुनिक युग मे सोशल मीडिया (Social Media) को लेकर कई तरह के सवाल और विवाद आये दिन खड़े होते रहे है लेकिन सोशल मीडिया का निगेटिव इम्पेक्ट के साथ ही पॉजिटिव इम्पेक्ट भी समय समय पर देखने को मिलता है। इंदौर (Indore) में सोशल मीडिया के सकारात्मक प्रभाव ने कुछ ऐसा कर दिखाया कि गुम हुई 3 साल की मासूम 3 घण्टे में ही अपने परिजनों तक पहुंच गई।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश में जल्द हो सकते है नगरीय निकाय चुनाव, आयुक्त ने दिए संकेत

दरअसल, पूरा मामला इंदौर के राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र का है। जहां खेल – खेल में 3 साल की मासूम बेटी इतनी दूर निकल गई कि उसे अंदाजा भी नही था कि वो अपनो से बिछड़ जाएगी। राजेंद्र नगर पुलिस की डायल 100 टीम को सूचना मिली थी कि बिजलपुर इलाके में एक 3 साल बच्ची रो रही और अपने परिवार के बारे में कुछ नही बता पा रही है। लिहाजा, राजेंद्र नगर थाना प्रभारी अमृता सोलंकी को जब इस बात की जानकारी मिली तो उन्होंने अपनी पूरी टीम को सक्रिय कर दिया।

इसके बाद चाइल्ड लाइन (child line) की टीम को भी सूचना देकर मौके पर बुलाया गया और खुद राजेंद्र नगर थाना प्रभारी ने पूरी कार्रवाई को लीड किया। हालांकि टीआई अमृता सोलंकी बच्ची को लेकर आई और चाइल्ड लाइन की टीम के सामने ही टीआई ने सोशल मीडिया की मदद लेने की बात सोची और फिर जो हुआ वो अब एक सुनहरा इतिहास बन चुका है।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं के रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों के लिए 1 और मौका, ऐसे कर सकते है आवेदन

टीआई (Indore TI) राजेंद्र नगर को ये पता था कि समूचे थाना क्षेत्र की अलग अलग कालोनियों के रहवासियों ने अपने – अपने व्हाट्सएप ग्रुप बनाये हुए है लिहाजा, उन्होंने सोशल मीडिया के जरिये मासूम के परिजनों को ढूंढने की ठानी और नतीजा ये निकला कि 3 घण्टे के अंदर ही मासूम को उसकी बुआ लेने आ गई।

अब हम आपको बता दे कि बच्ची कैस गुम हुई। हुआ यूं कि 3 साल की मासुम बिटिया को उसके पिता अपनी बहन याने बच्ची की बुआ के घर छोड़कर काम करने चले गए थे। इसके बाद बुआ भी रोज की ही तरह काम पर चली गई। इधर, 3 साल की बेटी अपनी बुआ के बच्चो के साथ खेलते खेलते दूर निकल गई। इसके बाद जब लोगो ने उसे देखा तो पुलिस को सूचना दी। वही कहानी में ट्विस्ट उस वक्त आया जब सोशल मीडिया पर टीआई ने मासूम बेटी का फोटो और वीडियो वायरल (Video Viral) करवाया।

यह भी पढ़े.. 8 बीजेपी विधायकों का विधानसभा की स्ठाई समितियों से इस्तीफा, सियासी हलचल तेज

बता दे कि बुआ बिजलपुर इलाके के एक घर मे काम करने गई थी तब उसी घर मे रहने वाले शख्स ने इस बात का जिक्र काम करने आई बुआ से किया। लिहाजा जिज्ञासावश बुआ ने सोशल मीडिया पर तस्वीर दिखाने की बात अपने मालिक से की और जैसे बुआ ने अपनी भतीजी की तस्वीर देखी वैसे ही पुलिस से सम्पर्क किया और थाने (Indore Police) जाकर बुआ ने अपनी भतीजी को अपने हाथों में उठाया और पुलिस के साथ ही सोशल मीडिया और रहवासियों का आभार माना।

हालांकि ऐसा भी नही है कि पुलिस ने केवल सोशल मीडिया पर भरोसा किया बल्कि खुद थाना प्रभारी ने मासूम बेटी को चॉकलेट सहित अन्य प्यार भरी बातो से बहलाकर उसका पता पूछने और जानकारी जुटाने की कोशिश की लेकिन अपनो से बिछड़ी मासूम कुछ भी बता पाने में असमर्थ थी लिहाजा पुलिस सोशल आइडिया कामयाब रहा और चंद घण्टो में रहवासियों के व्हाट्सएप ग्रुप की मदद से बेटी अपने परिजनों के पास पहुंच पाई।

यह भी पढ़े.. निकाय चुनाव: पार्षद करेंगे महापौर और अध्यक्ष का चुनाव, जयवर्धन बोले-फिर BJP ने विरोध क्यों किया था