टैगोर कॉलेज के खिलाफ स्टूडेंट्स का आक्रोश, अन्य कॉलेज में ट्रांसफर की मांग

इंदौर| प्रदेश के एजुकेशनल हब कहलाने वाले इंदौर शहर में एक निजी कॉलेज के छात्र, कॉलेज संचालक की मनमानी से इस कदर प्रताड़ित हो चुके हैं कि अपने कॉलेज की ट्रांसफर की मांग को लेकर संयुक्त संचालक कार्यालय के बाहर छात्रों ने अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। 

दरअसल इंदौर के गांधीनगर क्षेत्र स्थित टैगोर कॉलेज के संचालक पर आरोप लगाया जा रहा है कि कॉलेज में छात्रों को पढ़ाने के बजाय उनसे कॉलेज के काम करवाए जाते हैं।कुछ छात्रों से माली के रूप में गार्डन में काम करवाया जाता है तो कुछ से फाइलों सम्बन्धी काम करवाए जाते है। कॉलेज के काम नहीं करने पर छात्रों को प्रताड़ित किया जाता है। बीते दिनों इसी कॉलेज के छात्र ने आत्महत्या का प्रयास भी किया था। आज कॉलेज के छात्र संयुक्त संचालक कार्यालय पहुंचे और अपनी मांग के संदर्भ में संयुक्त संचालक कार्यालय के बाहर पोस्टर चस्पा करते हुए कॉलेज संचालक के खिलाफ नारेबाजी की। छात्रों ने उन्हें दूसरे कॉलेज में ट्रांसफर किए जाने की मांग करते हुए कॉलेज संचालक को गिरफ्तार करने की मांग भी उठाई।छात्रों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए संयुक्त संचालक कार्यालय के बाहर पुलिस बल भी तैनात हो चुका है। आत्महत्या का प्रयास करने वाले छात्र अजय मिश्रा का कहना है कि जब तक टैगोर कॉलेज के छात्रों का ट्रांसफर किसी अन्य कॉलेज में नहीं किया जाता तब तक छात्र संयुक्त संचालक कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे रहेंगे। जल्द ही यदि उनकी मांग नहीं मानी गई तो छात्र भूख हड़ताल शुरू कर देंगे।