‘ताई’ ने की ‘भाई’ की तारीफ, संघर्ष को सराहा

Tai-do-Praise-of-bother-

इंदौर।

लोकसभा स्पीकर एवं संसदीय सदस्य के रूप से मुक्त होने के बाद पहली बार इंदौर पहुंची सुमित्रा महाजन का एयरपोर्ट पर समर्थकों द्वारा स्वागत किया गया। उसके बाद सुमित्रा महाजन ने इंदौर की जनता का आभार माना और इतने लंबे समय तक सेवा का अवसर देने के लिए धन्यवाद भी कहा।

इस अवसर पर मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कैलाश विजयवर्गीय की भी जमकर तारीफ़ की। विजयवर्गीय की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा महासचिव ने पश्चिम बंगाल में पार्टी को खड़ा करने के लिए काफी संघर्ष किया है। युवा अपने तरीके से काम करते हैं और मां अपने तरीके से काम करती है। यह बात सही है कि जितना संघर्ष उन्होंने किया है उतना संघर्ष मैंने नहीं किया। उन्होंने यह भी कहा कि वे सदैव इंदौर के विकास के लिए तत्पर रहेंगी। 

सुमित्रा महाजन ने वन नेशन-वन इलेक्शन पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि यदि एक चुनाव होने लगे तो यह बहुत अच्छा है। क्योंकि पंचायत चुनाव से लेकर सांसद तक के चुनाव में आचार संहिता के कारण काम नहीं हो पाते हैं। ये चुनाव हमेशा अलग-अलग समय पर होने से काम प्रभावित होता है। बारिश में वैसे ही काम में ज्यादा गति नहीं मिलती और फिर आचार संहिता के कारण कुछ रुकावट आ जाती है। ऐसे में एक चुनाव होने से नेताओं को कामों के बारे में सोचने का ज्यादा मौका मिलेगा।