Chandrayaan 3 की सफलता पर देश में खुशी का माहौल, जमकर हुई आतिशबाजी

Amit Sengar
Published on -

Chandrayaan 3 : अंतरिक्ष जगत में भारत ने आज इतिहास रच दिया है। इसरो का मिशन चंद्रयान-3 ने आज शाम चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सफलतापूर्वक लेंडिंग की तो संपूर्ण देशवासियों ने वैज्ञानिकों की सराहना करते हुए झूम उठे। शाम साढ़े 5 से 6 बजकर 5 मिनट तक लोग टीवी से चिपके रहे, जैसे ही लेंडर विक्रम ने चाँद की जमीन पर अपने पैर जमाए लोग सडक़ों पर निकलकर झूम उठे और एक-दूसरे को बधाईयों का आदान-प्रदान करने लगे और चौराहों पर आतिशबाजी कर खुशियां मनाई।

भारत के चंद्रयान की सफलता पूर्वक चंद्रमा पर लैंडिंग को लेकर आज इंदौर नगर निगम द्वारा राजवाड़ा पर प्रसारण रखा गया था। इस अवसर पर महापौर ने आतिशबाजी और मिठाई खिला कर इसरो के समस्त वैज्ञानिकों एवं समस्त देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इसके आलावा भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में भी चंद्रयान की लैंडिंग का लाइव प्रसारण रखा गया था।

Chandrayaan 3 की सफलता पर देश में खुशी का माहौल, जमकर हुई आतिशबाजी

आतिशबाजी हुईं शुरु

हर जश्न को बढ़चढ़कर मनाने में इंदौर का कोई सानी नहीं है। बड़े त्योहारों, उत्सव की तरह चंद्रयान की लैंडिंग के बाद शहर में जगह-जगह आतिशबाजी शुरू हो गई। शाम को शहर के अलग – अलग क्षेत्रों जमकर आतिशबाजी हुई।

चंद्रयान-3 की सफलता पर शामगढ़ में हुई आतिशबाजी

इसरो ने चांद पर चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग कराकर इतिहास रच दिया है। इस उपलब्धि के साथ ही पूरा देश इसरो को बधाई दे रहा है। वहीं शामगढ़ में भी नगरवासियों ने जोरदार आतिशबाजी कर ताली बजाकर एकदूसरे को मिठाई खिलाकर एवं भारत माता के नारे लगाकर जश्न मनाया।

Chandrayaan 3 की सफलता पर देश में खुशी का माहौल, जमकर हुई आतिशबाजी

शामगढ़ नगर परिषद अध्यक्ष कविता नरेंद्र यादव ने कहा कि चंद्रयान-3 की सफलता पर मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा है। उन्होंने इस शानदार सफलता पर देशवासियों क्षेत्र वासियों एवं नगरवासियों साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश के वैज्ञानिकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। सैकड़ो की संख्या में लोगों ने इस नजारे का जोरदार तरीके से जश्न मनाया लोगों ने एक दूसरे को बधाई देकर चंद्रयान 3 की सफलता की शुभकामनाएं दी।

इंदौर से मंगल राजपूत व मंदसौर से राकेश धनोतिया की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News