एफआईआर आपके द्वार के तहत इंदौर में ये मामला हुआ दर्ज

इंदौर/आकाश धोलपुरे

प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा की गई घोषणा के मुताबिक प्रदेश के हर जिले में पायलट प्रोजेक्ट के तहत सोमवार से एफआईआर आपके द्वार जैसी महती सुविधा का आगाज हो गया है। इस प्रोजेक्ट के तहत अब आम लोगो को संज्ञेय अपराधों की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पुलिस थाने नही जाना पड़ेगा बल्कि पुलिस स्वयं शिकायतकर्ता के घर पहुंचेगी। पहले चरण में भोपाल और इंदौर में नई व्यवस्था के तहत काम भी शुरू किया जा चुका है। इंदौर में तो इस प्रोजेक्ट के तहत प्रदेश के पलासिया और हातोद थाना क्षेत्र में एफआईआर भी दर्ज की गई है और फरियादी को बकायदा रिपोर्ट की कॉपी उसके घर पर जाकर दी गई है।

इंदौर में शहरी क्षेत्र में पलासिया थाना क्षेत्र तो ग्रामीण क्षेत्र में हातोद में ये सुविधा शुरू की गई है। एफ.आई.आर. आपके द्वार प्रोजेक्ट के तहत शहर के हातोद थाना क्षेत्र में सोमवार दोपहर में ही एफआरवी 38 क्षेत्र में रवाना कर दी गई थी, जिसके बाद इस थाना क्षेत्र से इंदौर में एक शिकायत भी सामने आई है इसके पहले शहरी क्षेत्र में भी एक एफआईआर दर्ज किए जाने की सूचना है। कोरोना महामारी के चलते लगे लॉक डाउन का पालन करने में सहूलियत हो इसके लिये फरियादी ने डायल 100 पर फोन लगाकर पुलिस को सूचना दी और घर पर ही रिपोर्ट दर्ज करवाई। दरअसल, हातोद थाना क्षेत्र के ग्राम झम्बूड़ी सर्वर के अर्जुन सिंह पिता सीताराम नामक युवक को क्षेत्र में रहने वाले लाखन सिंह और भगवान सिंह पहले तो धमकाया और फिर उसके साथ मारपीट की। इसके बाद फरियादी ने पुलिस को इसकी सूचना दी और शिकायत के बाद हातोद पुलिस ने एफ.आई.आर. दर्ज कर उसकी एक कॉपी फरियादी अर्जुन सिंह को दी। इंदौर के हातोद थाना क्षेत्र में पदस्थ टीआई व प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक नंदिनी शर्मा ने बताया कि अर्जुन सिंह नामक फरियादी की शिकायत पर घर जाकर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है और आरोपियों के खिलाफ़ धारा 323, 294 और 506 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है वही मौके पर पहुंची पुलिस ने एफआईआर की कॉपी भी फरियादी को दी है। इधर,फरियादी अर्जुनसिंह ने बताया की घटना के बाद उसने पुलिस को फोन पर सूचना दी थी जिसके बाद घर पर ही आकर पुलिस एफआईआर दर्ज की है।

सोमवार दोपहर हातोद और पलासिया क्षेत्र में किया गया शुभारंभ

गृह मंत्रालय के पायलेट प्रोजेक्ट एफ.आई. आर. का शुभारंभ इंदौर के 2 थाना क्षेत्रों में किया गया। इंदौर में पुलिस महा निरीक्षक महोदय श्री विवेक शर्मा डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा, आईजी विवेक शर्मा, एसपी पश्चिम महेश चंद्र जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन 2 मनीष खत्री के निर्देश पर इंदौर के पलासिया में एफआरवी को क्षेत्र में रवाना किया गया, वही हातोद में नगर पुलिस अधीक्षक सौम्या जैन और थाना प्रभारी व प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक सुश्री नंदिनी शर्मा ने हरी झंडी दिखाकर एफआरवी 38 को क्षेत्र में रवाना किया था जिसके बाद दोपहर में एक शिकायत भी सामने आ गई। इंदौर आईजी विवेक शर्मा ने बताया कि गम्भीर अपराध की श्रेणी में आने वाले मामले दर्ज नही किये जायेगें वही संज्ञेय अपराधों के मामले में फरियादी के घर जाकर दर्ज किए जायेग उन्होंने बताया कि इसके लिए पुलिस टीम को भी आधुनिक व्यवस्था से लैस किया गया है ताकि एफ.आई.आर. आपके द्वार की सुविधा फरियादी को मिल सके।