इंदौर, आकाश धोलपुरे। इन्दौर (Indore) के लसूड़िया थाना क्षेत्र में स्थित ज्ञान आयुर्वेदिक महाविद्यालय (Gyan Ayurvedic College) के खंडहर में दो कंकाल (Skeleton मिलने से मंगलवार रात को सनसनी फैल गई। इसके बाद सूचना मिलने पर जब पुलिस (Indore Police) और एफएसएल टीम पहुंची। FSL की टीम ने जब जांच शुरू की तो पता चला कि एक महिला व एक पुरुष का कंकाल है इसके बाद जांच में जो सामने आया वो चौंकाने वाला था। दरअसल, जब सच सामने आया तो फिर ये हुआ। आइये जानते है इंदौर के नरकंकालो कि कहानी का पूरा सच।

दरअसल, इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले लसूड़िया थाना क्षेत्र में मंगलवार को जहां एक तरफ उपचुनाव के मतदान की गहमा गहमी खत्म ही हुई थी कि अचानक सोशल मीडिया (Social Media) पर एक तस्वीर वायरल हो गई जिसमें दो नरकंकाल एक खण्डर में खड़े मिले इसके बाद देर रात पुलिस को सूचना मिली कि लसूड़िया थाना क्षेत्र के ज्ञान आयुर्वेदिक महाविद्यालय के खंडहर हो चुके परिसर में दो कंकाल पड़े हुए हैं।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और फिर एफएसएल की टीम को बुलाया गया। एफएसएल की टीम ने दोनों कंकालों की जांच पड़ताल शुरू की इस दौरान टीम को जानकारी लगी कि यह रसायन से निर्मित किए गए कंकाल है जिन्हें कॉलेज में डमी कंकाल के रूप उपयोग किया जाता होगा। पुलिस ने पूरे मामले की जांच पड़ताल की तो भी ये बात सामने आई कि कंकाल को ज्ञान आयुर्वेदिक महाविद्यालय में पढ़ने वाले मेडिकल स्टूडेंट्स (Medical Students) को पढ़ाने के लिए रसायन (Chemicals) से निर्मित किए गए था।

फिलहाल जिस जगह पर यह दोनों कंकाल रखे हुए थे वह जगह काफी जर्जर और खंडहर हो चुकी है और वहां किसी का आना जाना भी नहीं था वहीं जानकारी ये भी सामने आई है नरकंकाल पड़े पहले एक संदूक में बंद थे लेकिन किसी शरारती तत्त्वों ने इन्हें उठाकर खड़े कर दिया। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है वही जिस जगह पर यह दोनों कंकाल मिले हुए हैं वहां पर आए दिन बदमाशों (Scoundrel) के द्वारा नशा व अन्य अवैध काम किए जाते हैं फिलहाल पुलिस आने वाले समय में यहां पर गश्त बढ़ाने की बात कर रही है ।

ककी बात सामने आई लेकिन थोड़ी ही देर में यह बात सामने आई कि यह कंकाल रसायन से निर्माण किए गए थे और कॉलेज के बच्चों को पढ़ाने के लिए तैयार किए गए थे फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।
इंदौर में मंगलवार को एक तरफ चुनाव चल रहे थे और धीरे-धीरे चुनाव अपने समापन की ओर बढ़ रहे थे वहीं देर रात पुलिस को सूचना मिली कि लसूड़िया थाना क्षेत्र के ज्ञान आयुर्वेदिक महाविद्यालय के खंडार हो चुके परिसर में दो कंकाल पड़े हुए हैं सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और पूरे मामले की जानकारी एफएसएल टीम को भी दी गई एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची और दोनों कंकालों की जांच पड़ताल शुरू की इस दौरान टीम को जानकारी लगी कि यह रसायन से निर्मित किए गए कंकाल है।

वही जब पुलिस ने पूरे मामले की जांच पड़ताल की तो बात सामने आई कि कंकाल को ज्ञान आयुर्वेदिक महाविद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को पढ़ाने के लिए रसायन से निर्मित किए गए थे फिलहाल जिस जगह पर यह दोनों कंकाल रखे हुए थे वह जगह काफी खंडार हो चुकी है और वहां पर किसी का आना जाना भी नहीं था वहीं कुछ का ऐसा भी कहना है कि यह पहले एक संदूक में बंद थे लेकिन किसी शरारती तत्व ने इन्हें उठाकर खड़े कर दिए हैं।

प्रत्यक्षदर्शी अकीम खान ने बताया कि कंकाल कई सालों से पड़े है। वही लसूड़िया थाना के एसआई अमरसिंह मौर्य ने बतया की जांच में पाया गया है कि दोनों कंकाल डमी कंकाल थे। वही जिस जगह पर यह दोनों डमी कंकाल मिले हैं वहां वो बदमाशों का अड्डा भी है लिहाजा पुलिस यहां पर गश्त बढ़ाने की बात कर रही है ।फिलहाल इस पूरे मामले में पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है और पुलिस की माने तो जिन लोगों ने इस तरह की शरारत की वह क्षेत्र में सनसनी फैलाई उन पर कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी।