jail

इंदौर/आकाश धोलपुरे

कोरोना को लेकर इंदौर हाई अलर्ट पर है। यहां लगातार कोरोना संक्रमित मरीज़ों की संख्या बढ़ रही है बावजूद इसके अब भी कई लोग लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। ऐसे लोगों को सबक सिखाने के लिये अब पुलिस उन्हें गिरफ्तार करेगी और जेल भेजेगी।

शहर में कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों की अब खैर नहीं। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजने की तैयारी कर ली है और इसके लिये अस्थायी जेल बनाई जा रही है। कलेक्टर मनीष सिंह ने अस्थाई जेल बनाने के आदेश दे दिये हैं और प्रशासन ने अगले 30 दिनों के लिए वैष्णव यूनिवर्सिटी को अस्थाई जेल में तब्दील कर दिया है। अब जो भी लॉकडाउन का मखोल उड़ाता पाया गया उसे गिरफ्तार कर इस अस्थायी जेल में डाल दिया जाएगा।
श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय सांवेर रोड के प्रथम तल में ये अस्थाई जेल बनाई गई है।समाज सेवा के नाम पर व्यर्थ में सड़क पर निकलने वालों और अनावश्यक काम से घूमने वालो की गिरफ्तारी की जाएगी, वहीं ठेला लेकर सब्जी बेचने निकले लोगों को भी जेल भेजने की तैयारी है। जेल अधीक्षक केंद्रीय जेल को श्री वैष्णव विद्यापीठ में अस्थाई जेल की व्यवस्था संभालने के आदेश दिये गए हैं।

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले जाएंगे जेल, इंदौर प्रशासन का सख्त रवैया