LIC अधिकारी हत्याकांड: तीन पकड़ाए, मुख्य आरोपी अब भी फरार  

three-accused-arrested-in-lic-officer-murder-case-in-indore

इंदौर| इंदौर पुलिस ने द्वारकापुरी इलाके में 3 अप्रैल की रात हुई लूटपाट और चाकूबाजी के तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। उस रात बदमाशों ने दो घटनाएं को अंजाम दिया, जिसमें एलआईसी अधिकारी यतीन पिसे की मृत्यु हो गई थी। दूसरी घटना नवनीत गार्डन के पास की है, जिसमें चाकू मारकर मोबाइल छीना गया था।  पुलिस के मुताबिक 3 अप्रैल को शुभम अस्पताल के पास चाकूबाजी की घटना हुई थी जिसमे यतीन पिसे की मृत्यु हो गई थी और राजेश सजनानी घायल हुआ था। जाँच के दौरान घटना स्थल पर एक अज्ञात आरोपी का हाथ में चाकू लिए सीसीटीवी मिला था। फुटेज में आया कि आरोपी अपाचे मोटर सायकल से मौके से भागे और नवनीत गार्डन के पास चाकू मारकर राजेश सजनानी का मोबाइल छीना। सीसीटीवी फुटेज में आए अज्ञात आरोपियों के हुलिए के आधार पर मोबाइल छीनने व चाकूबाजी की वारदात करने वाले बदमाशों की तलाश की गई।

 जांच में पता चला कि पिछले साल भंवरकुंआ में चाकूबाजी की घटना के  हुलिए का बदमाश पकडा गया था। भंवर कुँआ थाने के रिकार्ड का सीसीटीवी में आए आरोपी के हुलिए से मिलना पाया गया। संदेही राहुल उर्फ मनीष पिता शेरसिंह की तलाश खजराना क्षेत्र में तलाश की गई तो पता चला कि वो चंदन नगर क्षेत्र में रहता है इसके बाद पुलिस ने आरोपी राहुल उर्फ मनीष ठाकुर के छिपने के सभी संभावित ठिकानों पर दबिश दी। चारों संदिग्ध बदमाशों की तलाश चंदन नगर व आस पास क्षेत्र में करने के दौरान सूचना मिली कि तीन संदिग्ध हुलिए के बदमाश अपाचे मोटर सायकल पर सिरपुर तालाब के किनारे ग्वाला कालोनी रोड पर जा रहे हैं। तत्काल घेराबंदी की गई तथा ग्वाला कालोनी रोड से बिना नंबर की अपाचे मोटर सायकल पर तीन बदमाश चिंतामन उर्फ आशीष पिता जितेन्द्र मेश्राम, गोलू उर्फ पुष्पेन्द्र पिता बालूराम भूरिया और श्याम पिता सरदार सिंह नरवरिया को पकडा। तलाशी लेने पर चिंतामन उर्फ आशीष के कब्जे से 12 बोर का लोडेड कट्टा व तीन अलग-अलग कंपनी के मोबाइल मिले। गोलू उर्फ पुष्पेन्द्र व श्याम नरविरया के कब्जे से अलग-अलग अवैध खटकेदार चाकू मिले। अवैध हथियार, मोबाइल फोन व अपाचे मोटर सायकल को जब्त कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। प्रकरण का मुख्य आरोपी राहुल अभी फरार है। आरोपियों के विरुद्ध विभिन्न थानों में मारपीट, चोरी आदि अपराध पंजीबद्ध हैं। आरोपियों से पूछताछ जारी है।  हत्या के मामले में फरार आरोपी राहुल उर्फ मनीष पिता शेर सिंह के विरुद्ध भी थाना भंवरकुँआ, थाना खजराना व अन्य थाना क्षेत्रों में चोरी, मारपीट, चाकूबाजी के कई अपराध भी पंजीबद्ध हैं।