इंदौर के सिमरोल में लोकायुक्त कार्रवाई में एक टीआई सहित 3 रिश्वत लेते धराये

इंदौर। आकाश धौलपुरे। 

इंदौर में लोकायुक्त ने एक शिकायतकर्ता की शिकायत पर कार्रवाई को अंजाम देते हुए थाना टीआई सहित 3 लोगो को रिश्वत लेते धर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक शिकायत करने वाले युवक का रेती से भरा ट्रक महू तहसील के सिमरोल थाना क्षेत्र में खंडवा रोड़ से पकड़ लिया गया था जिसके बाद रेती से भरे ट्रक को लेने के लिए मनोज पिता बंशीलाल शर्मा निवासी पंचमूर्ति नगर धार रोड़ पहुंचा तो उससे रिश्व्त की मांग की गई।  बताया जा रहा है कि सोमवार रात को ट्रक मालिक का ड्राइवर इंदौर से रेती भरकर सिमरोल जा रहा था इसी दौरान उसके ट्रक को पकड़ लिया गया और सिमरोल थाना के नगर सैनिक दीपक पटेल, आरक्षक विजेंद्र धाकड़ और टीआई राकेश कुमार नैन ने रेती से भरे ट्रक को छोड़ने के एवज में 15 हजार रुपए की मांग की। इसके बाद शिकायतकर्ता मनीष शर्मा ने मान मनोव्वल की तो रिश्वत की राशि आखिर में 13 हजार रुपए हो गई। बातचीत में सौदे कि तय रकम को लेकर मनीष शर्मा सिमरोल थाने जा पहुंचा लेकिन इसके पहले उसने रिश्वत की मांग के मामले को लेकर इंदौर लोकायुक्त पुलिस को शिकायत कर दी। लोकायुक्त ने योजनाबद्ध तरीके से पहले शिकायतकर्ता को राशि लेकर सिमरोल थाना पहुँचाया जहां आरक्षक विजेंद्र धाकड़ को राशि थमा दी गई और इसके बाद लोकायुक्त ने छापामार कार्रवाई की। लोकायुक्त पुलिस की जांच में थाना प्रभारी राकेश कुमार नैन और नगर सैनिक दीपक पटेल को भी आरोपी बनाया जिसके बाद 3तीनों को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया। देर शाम की गई कार्रवाई से अचानक थाने में हड़कंप की स्थिति बन गई। फिलहाल, मामले में लोकायुक्त की जांच जारी है। बता दे कि पुलिस महकमे में कसावट की आवश्यकता इंदौर में जरूरी है और ताजा कार्रवाई के बाद उम्मीद की जा रही है पुलिस विभाग के आला अधिकारी मामले में कड़ी कार्रवाई तीनो आरोपियों पर विभागीय स्तर पर कर सकते है।