Twinkle-Dagre-murder-case--Congress--Blown-effigy-former-CM-and-former-BJP-MLA

इंदौर|  कांग्रेस नेत्री ट्विंकल डागरे हत्याकांड मामले में आरोपियों पर कार्रवाई शुरू हो चुकी है। जहाँ मुख्य आरोपी बीजेपी के शहर महामंत्री जगदीश करोतिया सलाखों के पीछे है वही दूसरी और उसके पुत्र अजय करोतिया से पुलिस की कड़ी पूछताछ की जा रही है। हत्याकांड का खुलासा उस वक्त हुआ जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई ये ही वजह है कि कांग्रेस इस हत्याकांड के बाद बीजेपी नेताओं पर हत्यारों को सरंक्षण देने का आरोप लगा रही है। शुक्रवार को इंदौर के छत्रीबाग स्थित रामद्वारा क्षेत्र में कांग्रेसियो ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता का पुतला फूंका। इस दौरान जमकर नारेबाजी की गई और लोकसभा स्पीकर और इंदौर सांसद सुमित्रा महाजन के इस्तीफे की मांग की। 

कांग्रेस नेता देवेंद्र यादव का आरोप है कि करोतिया परिवार को उस समय के विधायक सुदर्शन गुप्ता, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का सरंक्षण प्राप्त था जिसके चलते हत्याकांड की जांच में देरी हुई वही उन्होंने आरोप लगाया कि लोकसभा स्पीकर नारी सशक्तिकरण की बाते करती है लेकिन हत्याकांड से जुड़े परिवार को उनका सरंक्षण प्राप्त था। बता दे कि जगदीश करोतिया और उसका पूरा परिवार पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता का समर्थक है वही पूर्व विधायक इंदौर सांसद व लोकसभा स्पीकर के करीबी माने जाते है। ऐसे में कांग्रेस, लोकसभा चुनाव के पहले इस मुद्दे को हवा देती नजर आ रही है इसी का परिणाम है कि कांग्रेस ने सड़क पर उतरकर विरोध जताना शुरू कर दिया है और ये विरोध आगे भी जारी रहेगा। इसके पहले पीड़ित परिवार के घर न्याय दिलाने का आश्वासन लेकर कांग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष अर्चना जायसवाल भी सांत्वना जताने पहुची थी।