हत्याकांड का खुलासा, जमीन के विवाद में दो भाइयों ने रिश्तेदार को उतारा मौत के घाट

Two-brothers-killed-relative-in-land-dispute

इंदौर| इंदौर के बेटमा थाना क्षेत्र के पास ग्राम झलारिया में एक वृद्ध की खून से सनी लाश मिलने शुक्रवार को सनसनी फैल गई थी। दरअसल, देवास के बगड़ी गांव में रहने वाला किसान शिवाजी राम पटेल 11 अप्रैल को नालछा स्थित जमीनी विवाद के प्रकरण में धार कोर्ट में पेशी के लिए गया था और लौटते वक्त उसका अपहरण कर उसे जान से मार दिया गया। इस जघन्य हत्याकांड की सूचना के बाद तफ्तीश में जुटी पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने पूछताछ में कबूल किया है कि जमीनी विवाद के चलते हत्या की वारदात को अंजाम दिया। इंदौर पुलिस की माने तो जिस जमीन का विवाद चल रहा था उसी को लेकर वृद्ध शिवाजी राम की हत्या उसके रिश्तेदारों पवन और माणिक ने हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि पवन और माणिक दोनो सगे भाई है और 12 एकड़ जमीन को लेकर चल रहे विवाद के बाद उन्होंने आखिरकार हत्या को अंजाम दिया। बता दे मृतक शिवाजी देवास के बगड़ी गांव का रहने वाला है और 11 अप्रैल को वो कोर्ट गया जिसके बाद लौटते वक्त पहले उसका अपहरण किया गया फिर पवन और माणिक नामक रिश्तेदारों ने धारदार हथियारों से मौत के घाट उतार दिया और उसके शव को खुले मैदान में फेंककर भाग गए। आखिर में पुलिस ने जब मामले की बारीकी से जांच की दोनों ही आरोपियों से पूछताछ की तो पता चला कि दोनों ने उसे जमीनी विवाद के चलते मार दिया। मृतक व आरोपी खेती कर अपना जीविकोपार्जन करते थे लेकिन लंबे समय से उनका जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। फिलहाल, पुलिस ने दोनों ही आरोपियों को गिरफ्त में ले लिया है और हत्याकांड से जुड़े अन्य अहम सबूत जुटा रही है।