इंदौर डाक विभाग की अनूठी पहल, अब अस्थियां होगी स्पीड पोस्ट के जरिये विसर्जित, परिजन घर बैठे कर सकेंगे दर्शन

इंदौर (Indore) डाक विभाग और एक सामाजिक संस्था मिलकर इस अनूठे प्रयास को साझा रूप से मिलकर अंजाम दे रही है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। यदि आपके परिवार को कोई शख्स दुनिया को अलविदा कहकर ईश्वर के शरण में जा चुका हो और ऐसे मृत आत्मा की शांति के लिए आपको अस्थि विसर्जन हरिद्वार, काशी, गया या प्रयागराज में करना है। तो अब ये काम आसान हो गया है। इसके लिये स्वर्ग सिधार चुके शख्स के परिजनों को धार्मिक और पवित्र नदियों के घाटों पर प्रत्यक्ष रूप से नहीं जाना होगा। लेकिन उनके परिजनों की अस्थियां आसानी से पूरे विधि विधान से विसर्जित हो सकेगी और वो भी केवल 150 रुपये में। जी हां ये बिल्कुल मुमकिन है क्योंकि अब इंदौर (Indore) डाक विभाग और एक सामाजिक संस्था मिलकर इस अनूठे प्रयास को साझा रूप से मिलकर अंजाम दे रही है।

यह भी पढ़ें…इंदौर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 5 हजार के इनामी शराब तस्कर को सीधी से किया गिरफ्तार

दरअसल, व्यस्ततम और भागदौड़ भरी जिंदगी और प्रदेश से बाहर जाकर अस्थियों का विसर्जन करना आम लोगो के बस के बाहर होता जा रहा है। जिसकी पुष्टि उन मामलों के सामने आने के बाद हुई है जब मीडिया द्वारा श्मशान के अस्थि कक्ष में वर्षो से रखी हुई अस्थियो का खुलासा किया था। इसके बाद से ही इंदौर में कई सामाजिक संस्थाएं अस्थि विसर्जन के पुण्य कार्य के लिए आगे आ रही है। हाल ही में एक संस्था द्वारा डाक विभाग इंदौर के साथ मिलकर एक अनूठी मुहिम शुरू की गई है जिसकी सहायता से परिजन हरिद्वार, प्रयागराज, काशी या गया में अपनी पसंद और परंपरा के मुताबिक बिछड़ चुके अपनो की अस्थियां विसर्जित करवा सकेंगे।

इंदौर डाक विभाग की अनूठी पहल, अब अस्थियां होगी स्पीड पोस्ट के जरिये विसर्जित, परिजन घर बैठे कर सकेंगे दर्शन

इसके लिए डाक विभाग इंदौर (जीपीओ) ने श्री ओम दिव्य दर्शन सेवा संस्थान के साथ मिलकर एक पहल की है जिसके हिसाब से लोग अपनों की अस्थियां प्रयागराज के त्रिवेणी संगम, शिव की नगरी काशी या हरिद्वार में बहती हुई मां गंगा की अविरल जलधारा में विसर्जित कर सकते है। लोगो की पसंद के स्थान पर संबंधित मृत व्यक्ति की अस्थियां खुद डाक विभाग उन स्थानों तक पहुंचाएगा जिन स्थानों से अस्थि विर्सजन के लिए परिजनों की आस्था जुड़ी है। इसके लिए डाक विभाग महज 150 रुपये का शुल्क लेगा। वही ओम दिव्य सेवा संस्थान से जुड़े पुजारी पूरे विधि विधान से संबंधित व्यक्ति का अस्थिविसर्जन कर रहे है। डाक विभाग अस्थियो के विसर्जन के लिए स्पीड पोस्ट की सेवा दे रहा है। हालांकि डाक विभाग के काउंटर पर पहुंचने से पहले लोगो को संस्था की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। वही संस्था द्वारा वेबसाइट के जरिये ही लाइव अस्थि विसर्जन भी संबंधित लोगो को दिखाया जायेगा ताकि वो दर्शन कर सके। सीनियर पोस्टमास्टर इंदौर निवास जोशी ने बताया कि इसके लिए पोस्ट ऑफिस जीपीओ में तीन काउंटर अलग से बनाये गए है ताकि लोग आसानी से प्रकिया में शामिल हो सके।

बतादें कि डाक विभाग स्पीड पोस्ट के माध्यम से अस्थियो को संबंधित स्थान तक मात्र 2 से 3 दिन में पहुंचाएगा। वहीं लोगो की डाक विभाग के द्वारा दी गई रसीद का नंबर सेवा संस्थान के पोर्टल पर अपलोड करना होगा। जब पार्सल पहुंच जाएगा तब जिस दिन संबंधित व्यक्ति की अस्थियां गंगा नदी में विसर्जित की जाएगी। उस दिन संबंधित व्यक्ति के परिजनों को पोर्टल पर एक स्लॉट उपलब्ध होगा। जिसके बाद वो वेबकास्ट पर लाइव दर्शन कर सकेंगे। फिलहाल, इस अनूठी पहल को लोगो द्वारा सराहा जा रहा है।