आगर मालवा।गिरीश सक्सेना।

देर रात अस्पताल की एक सिस्टर के साथ बड़ी अभद्रता और अस्पताल के गार्ड ईश्वर यादव के साथ मारपीट और अस्पताल पुलिस चौकी पर उपस्थित पुलिस द्वारा विवाद के समय आरोपियों का साथ देने का आरोप लगाते हुए डॉक्टर और नर्सो ने स्ट्राइक कर दी है ।

अस्पताल में पदस्थ नर्सो ने डॉक्टरों के हमेशा ऑन डियूटी होने के साथ ही सही पुलिस सुरक्षा उपलब्ध कराने और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग पूरी ना होने तक स्ट्राइक जारी रखने की बात कही है ।वहीँ डॉक्टरों ने गायकोनोलॉजिस्ट के छुट्टी होने के कारण विवाद बढ़ने का कहते हुए आरोपियों पर सख्त कार्यवाही की मांग करते हुए स्ट्राइक जारी रखने की बात कही है ।

डिलेवरी वाली महिला के लिए रात में डिलेवरी हेतु गायकोनॉलॉजिस्ट डॉक्टर उपलब्ध ना होने पर प्रसूता के साथ उपस्थित अटेंडरों पर विवाद खड़ा करने के आरोप लगे है ।रात को हुए घटनाक्रम को लेकर डॉक्टरों से चर्चा करने पहुचे जनप्रतिनिधि राजकुमार गोरे और उनके समर्थकों ने अस्पताल के प्रबंधन पर सवाल खड़े करते हुए सिविल सर्जन को कटघरे में खड़ा किया है और इसी बात को लेकर दोनो पक्षो में तीखी बहस भी हुई है ।

जिला चिकित्सालय में पदस्थ महिला गायकोनॉलिजस्ट के अक्सर अवकाश पर होने एवं अवकाश पर ना होने पर भी अक्सर रात में मुख्यालय पर नही होने के कारण आए दिन जिला चिकित्सालय में  विवाद की स्थिति बनती रहती है और पिछले काफी समय से इस प्रकार की स्थित होने के बाद भी यहां कोई सुधार होते नही दिखाई दे रहा है ।