वोटर पर्ची बनी तीन तलाक की वजह, महिला ने दर्ज कराई शिकायत, जानें मामला

वही पुलिस तथ्यों और घरेलू विवाद की जांच कर कार्रवाई कर रही है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। 6 जुलाई को इंदौर (indore) में हुए निकाय चुनाव में मतदान को लेकर एक महिला इसलिए मतदान नही कर पाई क्योंकि उसके पति ने उसे न मतदाता पर्ची नहीं दी, और ना ही उसके पति द्वारा उसे वोटर आईडी दिया गया। इतना ही नही वोटर पर्ची लेने गई महिला को उसके पति ने तीन बार तलाक कहकर त्याग दिया।

यह भी पढ़े…कर्मचारियों को मिली खुशखबरी, DA में 5.5% की वृद्धि, आदेश जारी, जुलाई में मिलेगा लाभ

वोटर पर्ची बनी तीन तलाक की वजह, महिला ने दर्ज कराई शिकायत, जानें मामला

पूरा मामला इंदौर के एम.आई.जी. थाना क्षेत्र का है। जहां रहने वाले सादिक खान नामक अकाउंटेट की पत्नि ने उस पर मतदान नही करने और तलाक देने का मामला दर्ज करवाया है। महिला की माने तो वो 6 जुलाई को नगर सरकार चुनने के इरादे से अपने ससुराल में मतदाता पर्ची लेने गई थी। वही इस दौरान उसके पति ने उससे फ्लैट खुद के नाम कराने के लिए दबाव बनाया और मतदान पर्ची को देने से मना कर दिया। इतना ही नही उसके पति सादिक खान ने इसे तीन बार तलाक बोलकर उसे हमेशा के लिए छोड़ दिया। फरियादी महिला के मुताबिक उसकी शादी कुछ साल पहले हुई थी और घरेलू विवाद के चलते चार माह पहले से ही वो पति से अलग रहने लगी थी लेकिन चुनाव में अपने मताधिकार का उपयोग करने के लिए जब वो अपने पति के पास गई तो पति ने तलाक देकर दरवाजा बंद कर दिया।

यह भी पढ़े…MP: शिवराज सरकार की बड़ी तैयारी, 30 सितंबर तक पूरा होगा काम, सभी जिलों को मिलेगा लाभ

इधर, इस मामले के सामने आने के बाद इंदौर पुलिस कमिश्नर हरिनारायणचारि मिश्रा ने कहा कि एक महिला ने आवेदन दिया है कि एम.आई.जी.थाना क्षेत्र में वो रहती है और पति के पास उसकी मतदान की पर्ची थी। वही मतदान की पर्ची को पति से लेने के गई तो पति ने तीन तलाक दे दिया। महिला का आरोप है कि पति ने उसे तीन तलाक दे दिया है इसके बाद उसने पुलिस को शिकायत की है। वही पुलिस तथ्यों और घरेलू विवाद की जांच कर कार्रवाई कर रही है।