लॉकडाउन आगे बढ़ाने को लेकर क्या बोले शिवराज, क्यों कहा- “जान है तो जहान है”

भोपाल। मध्य प्रदेश में इंदौर जैसे कोरोना की राजधानी बनती जा रही है। अब तक इंदौर जिले में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद इंदौर पर विशेष रूप से नजर रखे हुए हैं। सोमवार को भोपाल में वो एक गर्ल्स हॉस्टल में पहुंचे थे और उन्होने वहां हालात का जायज़ा लिया और छात्राओं से बात की। इस दौरान इंदौर में कोरोना के बढ़ते मामलों पर बात करते हुए उन्होने कहा कि इस चिंताजनक स्थिति देखते हुए ही इंदौर में तीन दिन का कड़ा लॉकडाउन लागू किया गया है।

सीएम ने कहा कि हम इंदौर की स्थिति पर बहुत जल्दी नियंत्रण कर लेंगे, लेकिन इसके लिये उन्होने सभी नागरिकों से अपनी सुरक्षा के लिए लॉकडाउन का पालन करने की अपील की। उन्होने कहा कि इंदौर एक जीवट शहर है, वहां के लोगों ने हमेशा अपने कार्य से प्रदेश का सिर ऊंचा उठाया है चाहे वो स्वच्छता का मामला हो या स्वादिष्ट भोजन का। सीएम शिवराज ने भरोसा जताया कि ऐसे कठिन समय में भी इंदौरवासी अपनी एकजुटता और समझदारी से इस कोरोना के संकट को मात दे देंगे। उन्होने कहा कि वो जानते हैं कि ऐसे समय में नागरिकों को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ेगा, लेकिन सबके हित में ये बहुत जरूरी है कि सभी मिलकर लॉकडाउन का पालन करें। उन्होने कहा कि इंदौर समेत पूरे प्रदेश में लोगों को अनुशासित होकर इस लॉकडाउन में शासन प्रशासन का सहयोग करना चाहिए।
क्या प्रदेश में लॉकडाउन 14 अप्रैल से आगे बढ़ाया जा सकता है, इस सवाल पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि फिलहाल हमें स्वयं को 14 अप्रैल तक ही केंद्रित रखना चाहिये और कड़ाई से सारे निर्देशों का पालन करना चाहिए, उसके आगे का आगे देखेंगे। फिलहाल सबकी सुरक्षा महत्वपूर्ण है और जान है तो जहान है, इसीलिये हम सभी को मिल जुलकर इस स्थिति से निपटना होगा।