when-salman-khan-campaign-for-panakj-sanghvi-in-indore-elections

इंदौर।

कांग्रेस ने एमपी की 29  सीटों पर उम्मीदवार घोषित कर दिए है। इंदौर से  कांग्रेस ने पंकज संघवी को उम्मीदवार बनाया है। पंकज सिंघवी वही है जिनका 2009  में फिल्म अभिनेता सलमान खान ने मेयर चुनाव के दौरान  इंदौर में चुनाव प्रचार किया था, बावजूद इसके पकंज हार गए थे।वही 1998 में वे भाजपा की सांसद और लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन से लोकसभा चुनाव हार चुके है।बावजूद इसके कांग्रेस ने उन पर फिर भरोसा जताया है, हालांकि बीजेपी ने यहां से अभी तक कोई उम्मीदवार घोषित नही किया है।

दरअसल, पकंज 1983 के बाद राजनीति में सक्रिय हुए थे और इसी साल उन्होंने पहली बार पार्षद का चुनाव लड़ा और जीता।इसके बाद पार्टी ने उन पर भरोसा किया और 1998 में इंदौर से लोकसभा चुनाव का टिकट दिया, लेकिन वे बीजेपी  की सुमित्रा महाजन से करीब पचास हजार वोट से हार गए।इसके बाद उन्होंने ११ साल कोई चुनाव नही लड़ा और फिर 2009 में महापौर का चुनाव लड़े लेकिन इस बार भी उनकी किस्मत ने उनका साथ नही दिया और वे बीजेपी के कृष्णमुरारी मोघे से करीब 4 हजार वोट से हार गए।रोचक बात तो ये रही कि इस दौरान इंदौर से खास नाता रखने वाले फिल्म अभिनेता और मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीब सलमान खान ने उनके समर्थन में प्रचार किया था।प्रचार में भारी तादाद में भीड़ शामिल हुई थी लेकिन सिर्फ सलमान की एक झलक पाने को।लेकिन बावजूद इसके वे जीत नही पाए और हार गए। 

इसके बाद चार साल बाद उन्होंने फिर 2013 में इंदौर विधानसभा पांच नंबर सीट से चुनाव लड़ा और करीब 12 हजार वोट से हार गए। लगातार चुनाव लड़ने के बाद सिंघवी हर बार फेल हो गए बावजूद इसके पार्टी ने उन पर एक बार और दांव लगाया है और उन्हें इंदौर से लोकसभा उम्मीदवार बनाया है। हालांकि बीते कई सीटों में उन्होंने राजनीति में अपनी अच्छी पकड़ बनाई है, वे लगातार राजनीति में सक्रिय रहे है। वही सुत्रों का मानना है कि पंकज संघवी का मिलनसार व्यवहार और सामाजिक सेवा  मराठी वोट बैंक प्रभावित कर सकती है, जिसे सत्यनारायण पटेल या अन्य कांग्रेस नेता नहीं कर सकते।।हालांकि अभी तक बीजेपी ने अपने पत्ते नही खोले है। अब देखना दिलचस्प होगा कि इस बार सिंघवी जीत हासिल करते है या फिर उन्हें करारी हार झेलनी पड़ती है।