पत्नि ने प्रेमी के चक्कर मे रची थी पति की हत्या की साजिश, प्रेमी ने दिया वारदात को अंजाम

इंदौर, आकाश धोलपुरे। उसे पता भी नहीं था कि 7 जन्मों के बंधन में बंधकर उसके साथ रहने वाली पत्नि ही उसकी पीठ के पीछे उसकी हत्या की साजिश रच रही होगी, हालांकि अब उसे इस जन्म में तो इस बात का पता नहीं चल पाया कि उसकी हत्या के पीछे की वजह उसकी अपनी पत्नि ही है क्योंकि वो अब इस दुनिया से रुखसत हो चुका है। ताजा मामला इंदौर (Indore) का है। जहां एक धोखेबाज पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने ही पति को मौत के घाट उतार दिया।

यह भी पढ़ें…नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन मामला, अब सीबीआई जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका हुई दायर

दरअसल, इंदौर से सटे मानपुर क्षेत्र में महू थाना क्षेत्र में रहने वाले युवक की हत्या (murder) को 9 मई को अंजाम दिया गया था, लेकिन प्रारंभिक पड़ताल में मानपुर पुलिस को पता नहीं चल पा रहा था कि हत्यारा कौन और हत्या के पीछे की वजह क्या है ? पूरी घटना का जब खुलासा हुआ तो हत्या करने वालो पर से लोगो का विश्वास उठ गया क्योंकि हत्या की साजिश रची गई थी एक पत्नि के द्वारा और हत्या करने वाला कोई और नहीं बल्कि उसकी पत्नी का आशिक है।

यह भी पढ़ें…मुरैना : जब्त ट्रैक्टर ट्रॉली को सुपुर्द करने गए वन आरक्षक को हवलदार ने एफआईआर की दी धमकी, वीडियो वायरल

बताया जा रहा है कि अनिल पिता अमोल ठाकुर नामक युवक पीथमपुर की फैक्ट्री में काम करता था और अपने परिवार के खुशहाल जीवन के लिये वो पार्ट टाइम टैक्सी भी चलाता था। उसके खुशहाल परिवार में बीबी के अलावा 8 साल का बेटा और 6 साल की मासूम बेटी थी। जानकारी के मुताबिक अनिल ठाकुर की पत्नि आरती ठाकुर की दोस्ती किराये से रहने आये पड़ोसी राहुल ठाकुर से हो गई और ये दोस्ती प्यार में बदल गई। जिसके बाद शुरू हुई एक साजिश जिसे जानकर हर कोई हैरान रह गया। दरअसल, अवैध संबंध की डोर में बंध चुके राहुल और आरती अपने प्यार में अनिल को कांटा मानते थे लिहाजा उसे रास्ते से हटाने के लिये दोनों ने एक साजिश रची, जिसमे मुख्य भूमिका पत्नि आरती ने निभाई और विभीषण की तरह अपने पति का एक राज अपने प्रेमी को बताया। आरती ने प्रेमी राहुल को बताया कि उसके पति को कोल्ड ड्रिंक पीने की आदत है, फिर क्या था बाकि की योजना पर राहुल ने काम करना शुरू कर दिया। दोनो ने मिलकर योजना पर कार्य किया और राहुल ने अनिल से कहा कि उसे उसकी गर्वभती पत्नि को लेने कसरावद जाना है लिहाजा वो अपनी टैक्सी ले चले इसके लिए बाकायदा राहुल ने 2500 रुपये टैक्सी का किराया दिया। इसके बाद वो जब कसरावद पहुंचे तो पता चला कि राहुल की पत्नि सनावद चली गई है। फिर क्या था योजना के मुताबिक घर वापसी हुई लेकिन रास्ते मे राहुल ने अनिल की कोल्डड्रिंक में नशे की गोलियां मिला दी और मानपुर के समीप नंदलाई घाटी में जब वो होश खोने लगा तो कपड़े से उसका गला घोंट दिया। जिसके बाद मौके पर ही अनिल की मौत हो गई। इधर, पत्नि आरती ने भी अपने पति की गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करा दी लिहाजा पुलिस को उस पर शक नही हुआ लेकिन जब पत्नि की कॉल डिटेल निकाली तो सबकुछ साफ होने लगा। फिर राहुल और बाद में आरती को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो दोनो ने हत्या करना कबूल लिया।

पत्नि ने प्रेमी के चक्कर मे रची थी पति की हत्या की साजिश, प्रेमी ने दिया वारदात को अंजाम

हत्या के इस मामले को लेकर एसपी पश्चिम महेशचंद्र जैन ने बताया कि शुरुआत में पुलिस को क्लू नही मिल रहा था लेकिन धीरे धीरे एक परत खुलकर सामने आई और आखिर में पत्नि और उसके प्रेमी का पर्दाफाश हुआ। इंदौर एसपी ने पुलिस की इस कामयाबी पर टीम को प्रशंसा पत्र के साथ नगद इनाम भी दिया। हत्या की गुत्थी सुलझने में कार का नम्बर भी महत्वपूर्ण था जिसके बाद ही मृतक की शिनाख्त हो पाई और पुलिस की जांच को दृष्टिकोण मिल सका। वही अब पुलिस आरोपी पत्नि और उसके प्रेमी से पूछताछ में जुटी है।