क्या गुना हादसे का दर्द काफी नहीं? परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार फिर हुआ उजागर, अनफिट बस को सौंपा फिटनेस सर्टिफिकेट

यह घटना न केवल परिवहन विभाग की लापरवाही को दर्शाती है बल्कि आम जनता की सुरक्षा के प्रति उनकी उदासीनता को भी उजागर करती है।

भावना चौबे
Published on -
RTO indore

गुना बस हादसे का दर्द अब तक कम भी नहीं हुआ था कि मध्य प्रदेश परिवहन विभाग में एक बार से भ्रष्टाचार की खबरें सामने आ रही हैं। इस बार मामला इंदौर आरटीओ का बताया जा रहा है। इस मामले में एक बार फिर परिवहन अधिकारी द्वारा भ्रष्टाचार कर फिटनेस प्रक्रिया के साथ खिलवाड़ किया गया है।

यह है पूरा मामला

दरअसल इस मामले में तीन शिकायतकर्ताओं सुरेंद्र तवानी राज फौजदार और मंगल सिंह चौहान ने नर्मदा पुरम आरटीओ में एक अज्ञात बस सेवा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी इस शिकायत में शिकायतकर्ताओं ने बस क्रमांक MP47P0247 और MP47P0347 के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी। यह बस इंदौर से पांढुरना के बीच संचालित होती है और हरदा आरटीओ में Sitting Bus के तौर पर पंजीकृत है।

Continue Reading

About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग रंग होता है, यह इतना चमकदार रंग होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा की कलम में बहुत ताकत होती है, इस कलम की ताकत को बरकरार रखने के लिए हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन से बीए स्नातक किया। मैं अब आगे इसी विषय में DAVV यूनिवर्सिटी से स्नाकोत्तर कर रही हूं। मेरा पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू ही हुआ है। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग, वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली, धर्म इन विषयों पर लिखना अच्छा लगता है।