जबलपुर प्रशासन की कार्रवाई, भारी मात्रा में जब्त की नकली खाद और कीटनाशक दवाएं

जबलपुर, संदीप कुमार। खजरी खिरिया बाईपास पर मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच ने प्रशासन के साथ मिलकर छापामार कार्रवाई करते हुए मौके से भारी मात्रा में नकली खाद और कीटनाशक दवाएं जब्त की हैं।  गोदाम में मिली नकली खाद और कीटनाशक दवाएं सिर्फ जबलपुर ही नहीं बल्कि अन्य जिलों में भी सप्लाई की जाती थी। बताया जा रहा है कि यह गोदाम अमर कृषि फार्म के नाम से संचालित हो रही थी, जिसे की मयंक खत्री नाम का व्यक्ति चला रहा था।

कार्रवाई इतनी बड़ी कि कलेक्टर एसपी पहुंच गए मौके पर

जानकारी के मुताबिक खजरी खिरिया स्थित जो गोदाम हैं वह सबीना बी का बताया जा रहा है, जिसे की माढ़ोताल निवासी मयंक खत्री किराए पर लेकर चला रहा था, मयंक खत्री का यह कारोबार बीते कई सालों से फल फूल रहा था पर प्रशासन को इसकी भनक ही नहीं थी।

क्राइम ब्रांच को मिली मुखबिर से सूचना

क्राइम ब्रांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खंडेल को मुखबिर से सूचना मिली कि खजरी- खिरिया बाईपास में नकली खाद और कीटनाशक दवा बनाने की फैक्ट्री संचालित हो रही है, इस फैक्ट्री में पत्थर- मार्बल पाउडर और अन्य केमिकल मिलाकर नकली खाद और कीटनाशक दवाएं बनाई जा रही थी।  क्राइम ब्रांच को जैसे ही इसकी सूचना मिली तो मौके पर माढ़ोताल थाना पुलिस सहित दबिश दी गई, जहां पर की भारी मात्रा में नकली खाद और कीटनाशक दवाएं मिली।

प्रशासन ने फैक्ट्री संचालक के खिलाफ करवाई एफ आई आर दर्ज

नकली खाद और कीटनाशक बनाने की फैक्ट्री इतनी बड़ी थी कि सूचना मिलते कलेक्टर कर्मवीर शर्मा और सिद्धार्थ बहुगुणा भी मौके पर पहुंच गए,एसपी ने बताया कि निश्चित रूप से यह पुलिस-प्रशासन की बड़ी कार्रवाई है और अब इस कार्रवाई के बाद यह भी पता लगाया जाएगा कि आखिर इस गोदाम से नकली खाद और कीटनाशक दवाई कहां-कहां सप्लाई हुई है।

नकली खाद बेचने वाली पनागर की एक दुकान को किया गया सील कई और दुकाने प्रशासन ने की चिन्हित

खजरी खिरिया बाईपास स्थित गोदाम में बनाई जा रही नकली खाद और कीटनाशक दवाएं कहां-कहां पर सप्लाई की गई थी इसकी सूचना भी पुलिस प्रशासन ने लगाना शुरू कर दिया है, शुरुआती दौर में जानकारी मिली है कि पनागर की कई दुकानों में नकली खाद और कीटनाशक दवाएं दी गई हैं जैसे कि सूचना मिलने के बाद प्रशासन ने सील कर दिया है, वहीं अब यह भी जानकारी लगाई जा रही है कि जबलपुर सहित और कितने जिलों में यहां से नकली खाद और कीटनाशक दवाएं भेजी गई हैं।

बड़ी कंपनियों की कर दी गई नकली पैकिंग

कीटनाशक और खाद बनाने वाली बड़ी कंपनियों के नाम वाली पैकिंग के जरिए 100 रु मैं तैयार हुई खाद और कीटनाशक दवाएं को बाजारों में 800 से 1000 रु तक फैक्ट्री संचालक बेचा करता था, फिलहाल पुलिस ने फैक्ट्री संचालक मयंक खत्री के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।वही कलेक्टर के निर्देश पर फैक्ट्री को सील कर दिया गया है।