निलंबित पुलिसकर्मियों के मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को मिली जिम्मेदारी, जांच शुरु

मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल ने निलंबित हुए पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है जिसमें उन्हें जांच के दौरान कुछ अहम सुराग हांथ लगे हैं।

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर जिले (Jabalpur district) में पुलिस विभाग में मची बड़ी उथल-पुथल के बाद एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। दरअसल सटोरिया सूरज पटेल के साथ लिप्त होने और उसके साथ पुलिसकर्मियों के ऑडियो के आधार पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने क्राम ब्रांच के 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था जिसपर अब इस पूरे मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल को सौंपी गई है।

ये भी पढ़ें- पुलिसकर्मी महिला से फोन पर घंटों करते थे गंदी बातें, पति ने SP से लगाई गुहार, फिर हुआ ये…

मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय अग्रवाल ने निलंबित हुए पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। इसी मामले में एएसपी संजय अग्रवाल देर रात मदन महल थाना पहुंचे और सटोरिए से जुड़े दस्तावेजों को खंगालने शुरु किया। इसके बाद एएसपी सटोरिया सूरज पटेल सहित निलंबित हुए पुलिसकर्मियों के भी बयान दर्ज किए। बताया जा रहा है कि शुरुआती जांच में ही एएसपी संजय अग्रवाल को बहुत कुछ अहम सबूत मिले हैं।

निलंबित हुए पुलिसकर्मी लंबे समय से थे वसूली में लिप्त

जानकारी के मुताबिक 3 एएसआई सहित निलंबित हुए 6 पुलिसकर्मियों के तार काफी समय से अपराधियों से जुड़े रहे हैं। बताया जा रहा है कि हाल ही में जब बरगी में क्राइम ब्रांच ने जुएं फड़ पर रेड डाली गई थी उस दौरान भी पुलिस द्वारा लाखों रुपए की वसूली हुई थी पर महज चंद लाख से ऊपर ही क्राइम ब्रांच ने जब्ती में दिखाए थे। इसी के साथ सटोरिया सूरज पटेल अपनी पत्नी फातिमा बी के साथ मिलकर मदन महल मैं अवैध सट्टे का कारोबार करने की सूचना पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने पुलिस की एक टीम गठित कर मौके पर जाकर दबिश देने के निर्देश दिये थे, जिसपर सटोरियों के गिरफ्तार होने के बाद पुलिस ने सूरज पटेल का मोबाइल जब्त जप्त किया और जब उसकी कॉल रिकॉर्डिंग खागाली गई तो पता चला कि क्राइम ब्रांच के कुछ पुलिसकर्मी सूरज पटेल के साथ मिले हुए है। लिहाजा एसपी ने 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था।

वहीं छापामारी के दौरान मौके से लाखों रुपए की सट्टा पट्टी और हजारों रुपए बरामद किए गए थे जिसके मामले में फिलहाल एएसपी संजय अग्रवाल तेजी से जांच कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें.. Transfer: MP में हुए IAS अधिकारियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट