जबलपुर पुलिस ने पेश की संजीदगी और सतर्कता की मिसाल, एक मां की दुआ भी साथ

बच्ची को देखते ही मां की ऑंखें भर आई और वहीँ उसे गले से लगा दिया।

जबलपुर, संदीप कुमार। घमापुर में रहने वाली 11 साल की मूकबधिर बच्ची शाम को घर के बाहर खेलते-खेलते अचानक ही गायब हो जाती है। रात को करीब 9 बजे मां जब घर आती है तो बच्ची उसे नहीं मिलती लिहाजा बच्ची को आसपास तलाश किया जाता है और जब उसका कुछ भी पता नहीं चलता है तो थक हारकर बच्ची की मां पुलिस से मदद मांगती है। और फिर पुलिस जी जान एक कर बच्ची की ढूंढ निकालती है।

तुरन्त अलर्ट हुइ पुलिस

बच्ची को तलाश करने के बाद जब वह नहीं मिलती है घमापुर निवासी पूजा सीधे पुलिस कंट्रोल रूम पहुँचती है जहाँ सीएसपी को बताती है कि वह काम करती है और उसकी बच्ची घर पर रहती है। जब रात 9 बजे पूजा घर पहुँची तो देखा कि वह घर पर नहीं है, तलाश के बाद भी बच्ची नहीं मिलती है तो मदद के लिए पुलिस के पास पहुँचती है।  इधर महिला की बात सुनते ही सीएसपी आलोक वर्मा तुंरत अलर्ट हो जाते हैं। वायरलेस सेट पर जिले भर में मेसेज कर बच्ची की कद काठी बताई जाती है, इतना ही नहीं सोशल मीडिया के जरिए बच्ची की फोटो भी सभी पुलिसकर्मियों को भेजी जाती है।

ये भी पढ़ें – विवेक तन्खा के ट्वीट से हलचल तेज, BJP की डैमेज छवि पर कही बड़ी बात

चंद घंटों में ही रंग लाई पुलिस की मेहनत, मिल गई बच्ची सकुशल

सीएसपी आलोक वर्मा अपने साथी पुलिसकर्मियों के साथ स्वयं भी बच्ची को तलाश करने में जुटे हुए थे। चीता-पेट्रोलिंग स्टाफ भी गली-गली बच्ची को ढूंढ रहा था, इस बीच बलदेवबाग में एक बच्ची जिसकी कद-काठी गुम हुई बच्ची जैसी थी तुरंत इस विषय मे सीएसपी को बताया जाता है जिसके बाद सीएसपी बच्ची की मां के साथ मौके पर पहुँचते है।

ये भी पढ़ें – कर्मचारियों को DA-DR भुगतान से पहले शासन ने दी बड़ी राहत, मिलेगा लाभ, जाने अपडेट

बच्ची को पाकर नम हो गई मां की आंख, पुलिस को दिया धन्यवाद

बच्ची बलदेवबाग में है यह सूचना वायरलेस के माध्यम से दिया गया जिसके बाद बच्ची की मां के साथ सीएसपी मौके पर पहुँचते हैं, बच्ची को देखते ही मां की ऑंखें भर आई और वहीँ उसे गले से लगा दिया।  बच्ची को पाते ही परेशान मां के चेहरे में न सिर्फ खुशी आई बल्कि मां के दिल से पुलिस के लिए खूब सारी दुआ भी निकल रही थी।

ये भी पढ़ें – MP Politics: आगामी चुनाव को लेकर एक्शन में कांग्रेस, इस रणनीति पर बिछाएगी बिसात

आम जनता के दिलों में पुलिस के लिए जो छवि है वो सही नहीं है, हर व्यक्ति पुलिस से दूरी बनाकर ही रखना चाहता है लेकिन मध्यप्रदेश पुलिस का दूसरा पहलू भी है और ये कि एक परेशान मां की मदद के लिए जबलपुर पुलिस का अमला सारी रात रोड छान रहा था और आखिर में पुलिस की संजीदगी, सतर्कता और मां की दुआ रंग लाई कि बच्ची सही सलामत मिल गई।

जबलपुर पुलिस ने पेश की संजीदगी और सतर्कता की मिसाल, एक मां की दुआ भी साथ