जबलपुर| संदीप कुमार| रेत कारोबार में सरकार और उसका वर्चस्व इसकी लड़ाई हमेशा से ही बनी आ रही है। मध्यप्रदेश में भी सरकार बदली ऐसे में एक बार फिर से वर्चस्व की होड़ नेताओ में लग गई है। बीते दिनों बरगी विधानसभा से पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह ने अपने समर्थकों के साथ एक विशाल रैली निकाली। खास बात ये है कि यह रैली उस समय निकली जब कोरोना वायरस के कारण रैली य भीड़ के कार्यक्रम में प्रतिबंध लगा हुआ है। भाजपा की इस रैली का कांग्रेस विधायक संजय यादव ने कड़ा विरोध किया है।

बताया जा रहा है कि यह रैली वर्चस्व और शक्ति प्रदर्शन को लेकर नर्मदा घाट से 50 से अधिक चार पहिया वाहनों के साथ शुरू हुई थी। रैली शहपुरा,चरगवां होत्र हुए बरगी में जाकर समाप्त हुई पर ताजुब्ब था कि इस रैली को पुलिस मूक दर्शक बने देखती रही।

कांग्रेस विधायक ने शुरू किया बिरोध….
कोरोना वायरस के कारण लागू 144 धारा के बावजूद 50 से अधिक वाहनों के साथ निकाली गई रैली का विधायक ने विरोध किया है साथ ही पुलिस पर मिली भगत का आरोप भी लगाया है विधायक ने कहा कि सरकार बदलते ही आरजकता का माहौल बनाने का ये काम किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि पुनः बीजेपी की सरकार आने के बाद अब माफियाओं का राज फिर से हो गया है रैली के माध्यम से भय बनाया जा रहा है।इधर पुलिस इस पूरी रैली से अनजान नजर आई हालांकि पुलिस ने अब जरूर कार्यवाही की बात कही है।