बीजेपी सरकार के संरक्षण के कारण नहीं हुई ज्योति धुर्वे मामले में कार्रवाई : मंत्री मरकाम

Action-was-not-done-in-Jyoti-Dhwiya-case-due-to-protection-of-BJP-government-Minister-Marakam

जबलपुर | मध्य प्रदेश के आदिम जाति कल्याण मंत्री ओंकार सिंह मरकाम आज अल्प समय के लिए जबलपुर पहुंचे। जहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बेतूल सांसद ज्योति धुर्वे के जाति प्रमाण पत्र को लेकर पिछली सरकार पर हमला बोला। सांसद ज्योति धुर्वे को लेकर उन्होंने कहा कि उस विषय में जो निर्णय हुआ था उसको पिछली सरकार ने दबाते हुए संरक्षण देने का काम किया था पर जो आदिवासी समाज की मांग थी उसको देखते हुए कांग्रेस सरकार ने शीघ्रता से इस पर निर्णय लिया है। वहीं पातालकोट में उपजे घोटाले को लेकर मंत्री ओमकार सिंह ने कहा कि इसकी जांच चल रही है और अगर जांच में किसी प्रकार की भी गड़बड़ी पाई गई तो उन पर कार्यवाही भी होगी। 

इधर आदिवासियों के उत्थान को लेकर जनजातीय मंत्री ने कहा कि कमलनाथ सरकार आदिवासियों के लिए हमेशा से सोचते आ रही है यही वजह है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनते ही आदिवासियों के लिए रोजगार- शिक्षा जैसे अहम मुद्दे को लेकर एक कमेटी बनाई गई जिसमें की विपक्ष के नेता फग्गन सिंह और विजय शाह को भी सदस्य बनाया गया है । प्रदेश में पहली मर्तबा ऐसा हुआ है कि आदिवासियों के उत्थान के लिए किसी सरकार ने कमेटी बनाई हो और उसमें विपक्ष के नेताओं को रखा है जो कि अपना सुझाव देंगे। आदिवासी अंचल में लगातार हो रहे पलायन को लेकर जनजातीय मंत्री ओमकार सिंह मरकाम ने केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया है उन्होंने कहा कि पलायन के लिए यही जिम्मेदार हैं। क्योंकि कांग्रेस सरकार जब केंद्र में थी तो उन्होंने पलायन रोकने के लिए रोजगार गारंटी योजना लेकर आई पर मोदी सरकार ने इस योजना के लिए पिछले डेढ़ माह से पैसे नहीं दे रही है। ऐसे में रोजगार को लेकर गांव में विकराल स्थिति बन रही है यही वजह है कि पलायन हो रहा है।