भाजपा नेताओं के अवैध कब्जे पर चला शासन का हथौड़ा, नेता बोले ‘कलेक्टर-कमिश्नर कांग्रेसी’

जबलपुर। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर जबलपुर जिला प्रशासन ने माफियाओ के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्यवाही की। माफिया रज्जाक पहलवान के द्वारा नाले में किया गया कब्जा सहित जिले प्रशासन ने कांग्रेस नेता गजेंद्र सोनकर और भाजयुमो महामंत्री प्रनीव वर्मा के भी प्रतिष्ठानों को ढहा दिया। इधर, भाजयुमो नेता के रेस्टारेंट पर हुई कार्यवाही को लेकर आनन फानन में भाजपा अब जिला प्रशासन के खिलाफ उतर आई है।

जबलपुर में भाजपा नेताओ ने कलेक्टर भरत यादव और निगम कमिश्नर पर कांग्रेसी होने का आरोप लगाया। भाजपा नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने आरोप लगाते हुए कहा कि आज जिस तरह से कलेक्टर के कहने पर कार्यवाही हुई है    वो पूरी तरह से गलत है कायदे से किसी भी अतिक्रमण को तोड़ने से पहले नोटिस दिया जाना चाहिए था पर बिना नोटिस के कार्यवाही करना ये  पूरी तरह से गलत है।भाजपा नगर अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि प्रदेश सरकार के मंत्री के कहने पर जिला प्रशासन ने भाजयुमो के रेस्टोरेंट को तोड़ा है।वही जबलपुर महापौर स्वाति गोडबोले ने भी इस कार्यवाही पर असंतोष जाहिर करते हुए कहा कि आज जो कुछ भी हुआ वो गलत हुआ है साथ ही उन्होंने कहा कि निगम कमिश्नर ने उनसे इस तरह की कार्यवाही का जिक्र भी नही किया जो कि प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। बहरहाल आज की कार्यवाही को भाजपा एक बड़ा मुद्दा बनाने की तैयारी में जुट गई है और अब जल्द ही कलेक्टर के खिलाफ समूची भाजपा सड़को पर उतर कर प्रदर्शन करेगी।