स्कूल प्रबंधन की लापरवाही से नहीं मिला एडमिट कार्ड, एग्जाम से वंचित हुई छात्रा

संदीप कुमार।जबलपुर

शिक्षा विभाग बच्चों की तालीम औऱ उनके भविष्य को लेकर हर संभव प्रयास करने में जुटी है तो वही दूसरी और ऐसा भी स्कूल है जिसने एक छात्रा के भविष्य के साथ ऐसा खिलवाड़ किया कि उसे 12 वी की बोर्ड की परीक्षा से महरूम होना पड़ा। ताज़ा मामला जबलपुर स्थित अधारताल के यश नर्स री हायर सेकंड री स्कूल का जहाँ सुहा गी निवासी स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा मुस्कान पटेल का प्रवेश पत्र ही जारी नही किया गया जिसके चलते उसे 12 वी की बोर्ड परीक्षा से वंचित होना पड़ा।

वही फ़ीस को लेकर भी स्कूल प्रबंधन ने छात्रा का प्रवेश पत्र जारी नही किया जबकि परिजनों ने 8 दिन पहले स्कूल में जाकर छात्रा मुस्कान पटेल की पूरी बकाया फीस 14500 रुपये स्कूल प्रबंधन को जमा करा दिए थे जिसके एवज में बाक़ायदा स्कूल प्रबंधन द्वारा रशीद भी दी गयी। परीक्षा के एक दिन पहले जब छात्रा अपना प्रवेश पत्र लेने स्कूल पहुँची तो उसे बताया गया कि उसका रजिस्ट्रशन नही हुआ जिससे प्रवेश पत्र नही जारी किया गया।

इधर पीड़ित छात्रा ने अपने परिजनों की इस बात की जानकारी दी तो परिजन भी स्कूल पहुँचे औऱ यश नर्स री स्कूल के डायरेक्टर विजय कांत तिवारी से बात की।डायरेक्टर विजय तिवारी द्वारा टाल मटोल करते हुए समझौता की बात कर अगले साल स्कूल में छात्रा को पढ़ने और परीक्षा देने की बात कही। परेशान परिजनों ने मदद के लिए कलेक्टर भरत यादव से गुहार लगाई जिसके बाद कलेक्टर भरत यादव ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही करने की बात कहते हुए संबंधित जांच करने ज़िला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए है।