जबलपुर।

 देश के केंद्रीय गृहमंत्री एवं भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सीएए और एनआरसी कानून को लेकर जन जागरण करने आज प्रदेश की पहली सभा करेंगे।संस्कारधानी जबलपुर में आज दोपहर अमित शाह आएंगे और करीब 50,000 लोगों को संबोधित करेंगे।केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा  में करीब 700 जवान तैनात रहेंगे,वही 10 आईपीएस और 40 राजपत्रित अधिकारी को भी सुरक्षा में तैनात किया गया है।केंद्रीय गृह मंत्री शाह की कार्यक्रम की तैयारियों और उनकी सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने कल रात एडीजी इंटेलिजेंस एस डब्लू नकवी भी शहर में पहुंचे और उन्होंने आईजी से सुरक्षा को लेकर बात की। गृह मंत्री अमित शाह अहमदाबाद से विमान के द्वारा जबलपुर आएंगे। श्री शाह विमानतल से सड़क मार्ग द्वारा सीधे गैरिसन ग्राउंड पहुंचेंगे जहां 1:00 बजे सभा को संबोधित करेंगे।उसके बाद वापस डुमना विमानतल से शाम 4:00 बजे नई दिल्ली के लिए वह प्रस्थान करेंगे।अमित शाह के सामने वाले मंच में प्रबुद्ध वर्ग,संत समाज,शरणार्थी, बुद्धिजीवी समेत कई अलग-अलग श्रेणी के लोगों की बैठक व्यवस्था भी रखी गई है।इसके लिए पार्टी की ओर से विशेष पास भी उपलब्ध कराए गए हैं।गृहमंत्री शाह के लिए विमानतल पर ही भोजन व्यवस्था रखी गई है विशेष तौर पर गुजराती भोजन का इंतजाम किया गया है।

 केंद्रीय गृहमंत्री का स्वागत करने के लिए यह रहेंगे उपस्थित…. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव,केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते,प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत,भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे। इधर केंद्रीय मंत्री अमित शाह को जबलपुर दौरे को लेकर कांग्रेस ने भी अपनी रणनीति बनाई है। कई संगठनों ने अमित शाह के आगमन पर विरोध की रूपरेखा बनाई है। युवक कांग्रेस, एनएसयूआई सफाई मजदूर महासंघ ने अमित शाह को काले झंडे दिखाने की तैयारी की है।