कलाकार ने बनाई लता मंगेशकर की अनोखी पेंटिंग, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

जबलपुर के एक कलाकार ने लता मंगेशकर की अनोखी पेंटिंग तैयार की है।

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। स्वर कोकिला लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने 6 फरवरी 2022 को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। वह भले ही अब हमारे बीच में ना रही हों लेकिन उनकी सुरीली आवाज आज भी लोगों के दिलों में बसती है। आज लता मंगेशकर का 92वां जन्मदिन है। इंदौर की लता जी ने 1940 में अपने करियर की शुरुआत की थी। 11 साल की उम्र में उन्होंने गाना शुरू कर दिया था।

लता मंगेशकर के दुनियाभर में अनगिनत फैंस हैं। उनके जन्मदिन पर हर कोई उन्हें अपने अपने तरीके से याद कर रहा है। लेकिन आज हम आपको मध्यप्रदेश के जबलपुर के एक ऐसे फैन के बारे में बताते हैं जिसने लता जी को याद करते हुए एक बेहतरीन पेंटिंग तैयार की है। यह पेंटिंग इतनी शानदार है कि पूरे एशिया में इसके जैसी कोई पेंटिंग नहीं है। इस कला के कारण इस कलाकार का नाम एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है।

कलाकार ने बनाई लता मंगेशकर की अनोखी पेंटिंग, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

Must Read- कमलनाथ ने लिखा शिवराज को पत्र, बेरोजगार युवाओं के लिए की यह मांग

भारत रत्न से सम्मानित लता मंगेशकर की अब तक हमने कई तस्वीरें देखी हैं। लेकिन जबलपुर के रहने वाले रामकृपाल नामदेव ने लता मंगेशकर के जीवन से जुड़ी कई घटनाओं की तस्वीरों को इकट्ठा करके एक बड़ी पेंटिंग को तैयार किया है। पेंटिंग में लता जी की 1436 छोटी-छोटी तस्वीरें लगी हुई है जो उनके जीवन की कई घटनाओं का ब्यौरा दे रही है। बचपन से लेकर जवानी और फिर बुढ़ापे तक की हर तस्वीर इस पेंटिंग में देखी जा सकती है। एक झलक देखने पर आपको यह सिर्फ लता जी की एक पेंटिंग नजर आएगी, लेकिन जब इसे ध्यान से देखेंगे तो उसमें 1436 छोटे-छोटे फोटो दिखाई देंगे।

कलाकार ने बनाई लता मंगेशकर की अनोखी पेंटिंग, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नाम

इस शानदार तस्वीर को तैयार करने में रामकृपाल को 11 महीने का समय लगा। तस्वीर बनाते वक्त कई बारिक बातों का ध्यान रखना पड़ा। कलाकार की मेहनत तब रंग लाई जब एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में इस तस्वीर के लिए उनका नाम दर्ज किया गया। ये पहली बार नहीं है इससे पहले भी रामकृपाल का लता मंगेशकर की एक अनोखी तस्वीर बनाने के लिए लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज हो चुका है।