किसानों के समर्थन में भारतीय किसान यूनियन संघ ने निकाली विशाल ट्रैक्टर रैली

जबलपुर, संदीप कुमार। केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए कृषि संशोधन कानून बिल के खिलाफ लगातार किसान आंदोलन पूरे देश में चल रहा है,आज इस आंदोलन का असर जबलपुर में भी देखने को मिला। किसानों के समर्थन में जबलपुर में भी विशाल ट्रैक्टर रैली निकाली गई।

भारतीय किसान यूनियन संघ ने विशाल ट्रैक्टर रैली निकालकर केंद्र सरकार पर किसान विरोधी नीतियों को अपनाने और बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया। कटंगी बायपास से दीनदयाल चौक तक निकाली गई ट्रेक्टर रैली के आयोजक भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष सम्मति सैनी के नेतृत्व में बड़ी तादाद में किसानों ने ट्रैक्टर के साथ रैली में हिस्सा लिया। शहर के कटंगी बाईपास से दीनदयाल चौक तक निकाली गई इस रैली के जरिए आक्रोशित किसानों ने केंद्र सरकार को आगाह किया है कि यदि कृषि संशोधन कानूनों को जल्द वापस नहीं लिया गया तो आंदोलन को और भी ज्यादा उग्र रूप दिया जाएगा।

केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए ट्रैक्टरों पर सवार होकर किसानों ने आंदोलन में हिस्सा लिया और तीनों कृषि कानूनों को खेती और किसानी के लिए घातक करार दिया। किसान नेताओं का आरोप है कि केंद्र सरकार उद्योगपतियों की कठपुतली के तौर पर काम कर रही है जिसके चलते वह देश के लाखों किसानों के हितों को नजरअंदाज कर रही है। आक्रोशित किसानों का कहना है कि पिछले करीब दो माह से चल रहे इस किसान आंदोलन के दौरान 60 से ज्यादा किसानों ने अभी तक अपनी जान गंवाई है बावजूद इसके सरकार पर इसका कोई भी असर नहीं पड़ रहा है।

कृषि संशोधन कानूनों के खिलाफ चल रहे देशव्यापी आंदोलन के तहत अब जबलपुर में भी किसानों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। किसान नेताओं ने ऐलान किया है कि अगर सरकार ने जल्द कानून वापस नहीं लिया तो जबलपुर से भी बड़ी तादाद में किसान दिल्ली कूच करेंगे और आंदोलन में शामिल होकर अपनी आवाज बुलंद करेंगे।