जबलपुर।

विपक्ष की भूमिका निभा रही बीजेपी अब कमलनाथ सरकार के खिलाफ एक के बाद एक आंदोलन करने की तैयारियों में जुट गई है।किसानों आक्रोश आंदोलन और बिजली बिलों की होली जलाने के बाद अब बीजेपी ने महापौर चुनाव बिल को लेकर कमलनाथ सरकार को घेरने की रणनीति बना रही है। बीजेपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने ऐलान किया है कि अब वह सीएम हाउस का घेराव करेगी।

आज राकेश सिंह आज मंगलवार को पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व वरिष्ठ भाजपा नेता स्व. ईश्वर दास रोहाणी की छठवीं पुण्यतिथि पर जबलपुर पहुंचे थे। यहां उन्होंने रोहाणी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और उन्हें श्रद्धांजली दी। इस दौरान मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने ये ऐलान किया।  प्रदेश अध्य्क्ष ने कहा कि सरकार के खिलाफ अब लगातार आंदोलन किए जाएंगें।उन्होंने कहा कि किसान आक्रोश आंदोलन के बाद अब बीजेपी सीएम हाउस का घेराव करेगी।अप्रत्यक्ष ढंग से महापौर चुनाव और तोड़फोड़ की राजनीति के खिलाफ ये घेराव किया जाएगा।बीजेपी विधायको के खरीद फरोख्त पर कहा कि आग से ना खेले कांग्रेस।निकम्मी सरकार है। गायों के लिए वादा किया था वो भी नही पूरा हुआ।गौशाला की जमीनो का दिग्विजय सिंह ने बंदर बाट किया है। आपदा के लिय मांगे गए मुआवजे के लिए मेमोरंडम तक नही बनाया गया। हालांकि यह आंदोलन कब किया जाएगा यह उन्होंने नही बताया लेकिन कहा कि अगले आंदोलनों की तारीख जल्द तय की जाएगी।

इस दौरान उन्होंने सरकार को आड़े हाथो लेते हुए कहा कि प्रदेश सरकार बार-बार नई डिमांड लेकर केंद्र के पास पहुंच रही है, जबकि खुद का दो लाख करोड़ का बजट उसके पास है। सरकार चाहे तो कर्ज़ माफी और राहत राशि दोनों ही किसानों को बांट सकती है। वही लोधी की सदस्यता निरस्त करने को लेकर राकेश सिंह ने कहा कि सरकार ऐसा करके लोकतंत्र का गला घोट रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ के उस बयान का भी राकेश सिंह ने पलटवार किया जिसमें उन्होंने भाजपा के दो-तीन और विधायक कांग्रेस में आने की बात कही थी. राकेश सिंह ने कहा कि ऐसे बयान देकर मुख्यमंत्री खुद को संतुष्ट कर रहे हैं बेहतर होगा कि वे अपने कुनबे को संभालें।