अंधेकत्ल का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार, आरोपियों तक ऐसे पहुंची पुलिस

blind-murder-case-solve-by-police-four-arrested

जबलपुर|

पाटन थाना के पथरौरा गांव में 19 जून को एक बुजुर्ग की हत्या की गई थी।पुलिस ने इस अंधी हत्या का खुलासा करते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसपी अमित सिंह ने बताया कि पथरौरा गांव में रहने वाले कंछेदी गौंड, दीपक गौंड, रामकृष्ण गोंड और राजेश लोधी हम्माली करते हैं जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। उन लोगो को पता चला कि 85 वर्षीय बुजुर्ग बद्री प्रसाद हाल के दिनों में अपने घर पर अकेले रहता है। जिसके बाद आरोपियो ने उसके घर पर चोरी की योजना बनाई और आधी रात को आंगन में रखी मूंग दाल चोरी करने के लिए पहंुच गए। बद्री प्रसाद इनके आने की आहट पाकर उठ गए और इन्हें पहचान लिया जिसके बाद आरोपियो ने पकड़े जाने के डर से उसके हाथ पैर बांध दिया और सिर पर पत्थर मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपियो ने घसीटते हुए घर के पीछे बने बाड़े में ले जाकर फेंक दिया और बिना चोरी किए ही वहां से भाग गए।

पुलिस ने जब जांच शुरू की तो डाॅग स्क्वाड की टीम घर से पास बने अग्रवाल वेयर हाउस तक पहंुची और रूक गई। पुलिस ने बारीकी से जांच की तो इन चारों की हरकतें संदिग्ध लगीं जिसके बाद इन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो इन्होंने चोरी की नीयत से बद्री प्रसाद के घर जाना और उनकी हत्या करना कबूल कर लिया। पुलिस की आंखों में धूल झोंकने के लिए ये गांव से भागे नहीं बल्कि बद्री प्रसाद की अंत्येष्टि में भी शामिल हुए। बहरहाल पुलिस ने चारों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है।