अंधे हत्याकांड का खुलासा, पत्नी से फोन पर करता था बात, पति ने गला दबाकर की हत्या

जबलपुर, संदीप कुमार। करीब पाँच दिन पहले ग्राम अमहेरा में गला दबाने के बाद सिर कुचलकर हुई रूपलाल बर्मन की हुई हत्या की गुत्थी को कुंडम थाना पुलिस ने सुलझा दिया है। रूप लाल की हत्या करने वाला आरोपी कोई और नही बल्कि उसका साथी ही निकला, जिसे अपनी पत्नी के साथ मृतक का फोन पर बात करना नागवार गुजर रहा था। इसी से नाराज होकर उसने पहले तो रूपलाल की गला दबाकर पहले हत्या कर दी और फिर पहचान छिपाने उसके सिर पर पत्थर पटक दिया।

आरोपी की पत्नी ने बुलाया फोन करके मृतक को गाँव
आरोपी राजेन्द्र सिंह को शक था कि उसकी गैरमौजूदगी में रूपलाल उसकी पत्नी को फोन करके बात किया करता है, इस दौरान राजेन्द्र ने अपनी पत्नी और रूपलाल को कई बार समझाईश भी दी पर वह नहीं माना। तब राजेंद्र ने अपनी पत्नी से कहा कि वह रूपलाल को फोन करके घर बुलाए राजेंद्र की पत्नी ने भी वही किया जो कि उससे कहा गया। घटना वाले दिन रूपलाल राजेंद्र के घर पहुंचता है जहां दोनों बैठकर पहले तो जमकर शराब पीते हैं और उसके बाद मौका पाते ही राजेंद्र रूपलाल की गला घोटकर हत्या कर देता है।

मृतक रूपलाल था शातिर वाहन चोर
बताया जा रहा है कि मृतक रूपलाल बर्मन मूलतः थाना कटंगी के बंदरिया गांव का रहने वाला था जिसके ऊपर जबलपुर सहित आसपास के क्षेत्रों में वाहन चोरी के तकरीबन दर्ज़नो मामले विभिन्न थानों में दर्ज है। जिस गांव में मृतक की हत्या की गई थी वहां पर भी मृतक ने 2019 में तीन वाहन चोरी किए थे।जिसकी रिपोर्ट कुंडम थाने में दर्ज की गई थी।