भेड़ाघाट में डूबे छात्र व टीचर के शव 48 घण्टे बाद मिले

तीनो की गहरे पानी मे डूबने से मौत हो गई है।

जबलपुर,संदीप कुमार। कटनी जिले के विजयराघवगढ़ निवासी दो युवकों का शव तकरीबन 48 घण्टे बाद नर्मदा नदी के बन्दरकूदनी के पास मिला है। भेड़ाघाट (bhedaghat) थाना पुलिस ने दोनो शव को पोस्टमार्टम के परिजनों को सौपा दिया है।बता दे कि बुधवार को सेल्फी लेते समय एक छात्रा का पैर फिसल गया था जिसे बचाने के लिए दो युवको ने भी छलांग लगा दी। तीनो की गहरे पानी मे डूबने से मौत हो गई है।

यह भी पढ़े…Gwalior में “आप” ने लगाई सेंध, महिला कांग्रेस नेत्री को बनाया महापौर प्रत्याशी

कटनी से आए थे कॉलेज में एडमिशन करवाने
कटनी जिले के विजयराघवगढ़ में रहने वाले 8 से 10 कालेज छात्र अपने टीचर के साथ जबलपुर आए थे, जहाँ सभी लोग न्यू भेड़ाघाट घूमने पहुँचे उसी दौरान एक छात्रा खुशबू का सेल्फी लेते समय पैर फिसल गया और वह गहरे पानी मे डूबने लगी। खुशबू को बचाने के लिए शिक्षक श्रीराम और राकेश आर्य भी नर्मदा नदी में छलांग लगा दी,देखते ही देखते तीनो गहरे पानी मे जाकर समा गए, खुशबू का शव न्यू भेड़ाघाट के पास मिल गया पर राकेश और श्रीराम के शव बहते बहते दूर निकल गए।

यह भी पढ़े…दिल्ली और जम्मू-कश्मीर समेत उत्तर पश्चिम भारत के कई इलाकों में भूकंप के झटके, 5.0 तीव्रता से हिली धरती

48 घण्टे बाद मिली गोताखोरों को सफलता
बुधवार शाम से ही भेड़ाघाट थाना पुलिस के साथ मिलकर गोताखोर राकेश आर्य और श्रीराम की तलाश कर रहे थे, आज धुंआधार से दूर बन्दरकूदनी के पास दोनो के शव पानी मे उतराते हुए मिले,मौके पर तैनात भेड़ाघाट थाना पुलिस ने राकेश और श्रीराम के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उन्हें परिवार वालो को सौप दिया है।