शराब माफिया के अवैध निर्माणों पर चला बुलडोजर, 10 करोड़ की जमीन मुक्त  

महेश यादव एवं उसका भाई विनेश यादव अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्ति है  जिनके खिलाफ हत्या का प्रयास, मारपीट, आबकारी एक्ट के 7 अपराध न्यायालय में  विचाराधीन हैं।

जबलपुर, संदीप कुमार।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shirvraj Singh Chauhan) के निर्देश के बाद प्रदेश में माफिया के खिलाफ शुरू हुआ अभियान जारी है सरकार के निर्देश पर प्रशासन के अधिकारी भू माफिया,  राशन की काला बाजारी करने वाले, मिलावटखोरों, चिटफंड कारोबारियों एवं सूदखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रहे हैं। इसी कड़ी में जबलपुर प्रशासन ने शराब माफिया और डोलोमाइट की खदानों में अवैध ब्लास्ट करने वाले दो भाइयों के अवैध निर्माणों को ढहा दिया। प्रशासन में इनके कब्जे से 10  करोड़ रुपये की शासकीय भूमि मुक्त कराई।

जबलपुर पुलिस- प्रशासन तथा नगर निगम की संयुक्त टीम द्वारा आज थाना तिलवारा के अंतर्गत जोधपुर तिराहे पर शराब माफिया एवं डोलोमाइट की अवैध खदान में  ब्लास्ट कर अवैध उत्खनन  करने वाले ग्राम घुंसौर निवासी महेश यादव और उसके भाई विनेश यादव से करोड़ों  रु की सरकारी जमीन मुक्त करवाई। शराब माफिया और डोलोमाइट में विस्फोट कराने वाला महेश यादव और उसके भाई विनेश ने तिलवारा के पास लगभग 20 हजार वर्गफुट शासकीय जमीन पर कब्ज़ा कर रखा था जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 08 करोड रुपये बताई गई है वहीं महेश यादव की 02 करोड़ की लागत से बनी 8 पक्की दुकानें और 2 ढाबों पर भी प्रशासनने  ढहा दिया।

डोलोमाइट की खदान पर बारूद लगाकर करवाता था ब्लास्ट

जानकारी के मुताबिक ग्राम एठाखेड मे डोलोमाइट की अवैध खदान में महेश यादव के द्वारा कम्प्रेशर ड्रिल मशीन से गड्ढा करवाकर गड्ढो में बारूद भरवाकर विस्फोट करवाया जाता था,जिसमे हाल ही में ग्राम झिरी परासिया निवासी कमलेश ठाकुर घायल हो गया था, जिसे उपचार हेतु एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

दोनों भाइयों पर दर्ज हैं कई अपराध 

पुलिस के मुताबिक महेश यादव एवं उसका भाई विनेश यादव अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्ति है  जिनके खिलाफ हत्या का प्रयास, मारपीट, आबकारी एक्ट के 7 अपराध न्यायालय में  विचाराधीन हैं। आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने हेतु महेश यादव एवं विनेश यादव के विरुद्ध  समय-समय पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई भी गयी है।

भारी पुलिस बल था तैनात 

विवाद होने की आशंका को ध्यान में  रखते हुये कार्रवाई के दौरान अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल, एसडीएम ग्रामीण नमः शिवाय अरजरिया, नगर पुलिस अधीक्षक बरगी रवि चौहान, थाना प्रभारी तिलवारा सतीश  पटेल, थाना प्रभारी भेडाघाट शफीक खान, थाना प्रभारी चरगवाॅ रीतेश कुमार पाण्डेय रक्षित निरीक्षक सौरभ तिवारी सहित अतिरिक्त बल तथा नगर निगम का अतिक्रमण अमला मौजूद था।