जबलपुर में “डॉग जॉय” के लिए कैन्डल मार्च, सिरफिरे युवक ने गोली मारकर उतारा था मौत के घाट

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में और शायद देश मे पहली बार किसी डॉग के लिए कैंडल मार्च निकाला जाएगा, यह कैंडल मार्च इस डॉग को जस्टिस मिले इसके लिए निकाला जा रहा है, दरअसल जबलपुर शहर के जॉय नाम के इस डॉग को एक सनकी युवक ने गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया था। जॉय जबलपुर के मथुरा विहार कालोनी में रहने वाला स्ट्रीट डॉग था, जिसे कालोनी वाले बेहद प्यार करते थे और रोजाना उसे खाना खिलाया करते थे, कुछ दिन पहले इसी कालोनी में रहने वाले योगेश चंदेल ने गोली मार दी थी, योगेश कालोनी का बेहद बदतमीज़ शख्स है, जो अक्सर लोगों से विवाद करता रहता है। हालांकि घटना के बाद पुलिस ने योगेश का पिस्टल लाइसेंस भी रद्द कर दिया था और दूसरे दिन उसे हिरासत में ले लिया था, लेकिन अब जबलपुर के पशु प्रेमी जॉय को न्याय मिले और आरोपी योगेश को कड़ी से कड़ी सजा मिले, इसके लिए रविवार को शहर के अहिंसा चौक में कैन्डल मार्च निकाल रहे है।

Gwalior News : फर्जी ASI बनकर नौकरी दिलाने के नाम पर छात्रा से की ठगी

इस घटना में 14 नवंबर रविवार को योगेश ने रात को उसने कुत्ते को देखते ही लाइसेंसी पिस्टल से ताबड़तोड़ दो फायर कर दिए। कुत्ते को एक गोली सिर के पास तो दूसरी पेट के पास लगी। विजय नगर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करते हुए पिस्टल जब्त कर ली थी।  नगर निगम से रिटायर हेल्थ ऑफिसर जीएस चंदेल के पोते कुशाग्र सिंह चंदेल (18 माह) को दो दिन पहले कुत्ते ने काट लिया था। कुत्ते को कॉलोनी के लोगों ने ही मिलकर पाला था। कुशाग्र खेलते-खेलते घर से बाहर निकल गया था। विजय नगर पुलिस के मुताबिक भतीजे कुशाग्र को डॉग के काटने से चाचा योगेश सिंह चंदेल गुस्से में था। रविवार की रात डॉग घर के पास घूमता दिख गया। योगेश ने अपनी लाइसेंसी 32 बोर की पिस्टल से उसे गोली मार दी। फायर की आवाज सुनकर आसपास के लोग किसी अनहोनी की आशंका में दौड़कर पहुंचे। खून से लतपथ कुत्ते को देखकर सारा माजरा समझ में आ गया।