दुबई से आई कोरोना पीड़ित महिला ने जिला प्रशासन से मांगा अस्पताल में Seven स्टार होटल जैसी सुविधा

जबलपुर। संदीप कुमार. कोरोना वायरस बीमारी अब प्रशासन के लिए मुसीबत साबित हो रही है। हाल ही में कोरोना वायरस संदिग्ध एक मरीज को जब स्वास्थ्य विभाग ने परीक्षण के लिए जिला अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया तो उनके परिजन विफर गए और उन्होंने 7 स्टार होटल जैसी सुविधा की मांग जिला प्रशासन से की।कलेक्टर भरत यादव ने आज इस मामले का खुलासा करते हुए कहा कि कोरोना वायरस से संदिग्ध लोगों का ईलाज करने में स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन को परेशानी झेलनी पड़ रही है।आसानी से कोई भी संदिग्ध मरीज आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने को तैयार नही है पर जिस तरह की परिस्थिति इस बीमारी को लेकर बन रही है उसको देखते हुए अब सख्ती बरतने की तैयारी भी जिला प्रशासन कर रहा है।कलेक्टर भरत यादव ने कोरोना वायरस के चलते पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है।इसके अलावा शादी-विवाह,अन्य कार्यक्रम, धरना,ज्ञापन पर पूरी तरह से रोक लगा दी है।ऐसे तमाम कार्यक्रम जहाँ पर की भीड़ एकत्रित हो सकती है उन पर पाबंदी लगा दी है।बहुत आवश्यक होने पर ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी और एसडीएम के अनुमति के बाद ही कोई व्यक्ति कार्यक्रम कर सकता है। कोरोना वायरस के मद्देनजर जिला प्रशासन ने पहले ही स्कूल,कॉलेज,मॉल,प्रदर्शनी और अन्य सामूहिक कार्यक्रम पर रोक लगा कर रखी है।