सीसीटीवी कैमरे सुलझा रहे अपराधों की गुत्थी, पुलिस कंट्रोल रूम से होती है 24 घंटे निगरानी

अपराधों के खुलासे में सबसे अहम भूमिका रहती है चौराहों में लगे सीसीटीवी कैमरों की. यही वजह है कि जिले में पुलिस ने शहर के करीब 125 चौराहों-तिराहों पर 609 कैमरे लगाए हुए है

जबलपुर, संदीप कुमार| मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) में लगातार बढ़ते अपराधों को काबू करने के लिए महानगर की पुलिस (Police) शहर के चौराहों पर लगे CCTV पर काफी हद तक निर्भर है| यही वजह कि अब महानगरों में जिन अपराधों का खुलासा होता है| उसमें चौराहों में लगे सीसीटीवी कैमरों की अहम भूमिका होती है| जबलपुर की बात करें तो यहां पर मध्यप्रदेश पुलिस ने शहर के हर चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे का जाल बुन दिया है| जिसके चलते अब अपराधियों के लिए अपराध करना इतना आसान नहीं रह गया है।

जबलपुर के चौराहों में 609 कैमरे
अपराधों के खुलासे में सबसे अहम भूमिका रहती है चौराहों में लगे सीसीटीवी कैमरों की. यही वजह है कि जिले में पुलिस ने शहर के करीब 125 चौराहों-तिराहों पर 609 कैमरे लगाए हुए हैं, यह कैमरे शहर के हर छोटे-बड़े चौराहों पर लगे हुए हैं. इन कैमरों के जरिए 50 फीसदी से ज्यादा अपराधों का खुलासा तत्काल हो जाता है. इनमें चेन स्नेचिंग, लूट, हिट एंड रन, जैसे अपराधों के लिए CCTV कैमरे बहुत ही कारगर साबित हो रहे हैं।

पुलिस कंट्रोल रूम से होती है 24 घंटे निगरानी
जबलपुर पुलिस के द्वारा शहर के 125 चौराहों पर लगाए गए 609 कमरों पर पुलिस की 24 घंटे निगरानी रहती है. जबलपुर पुलिस कंट्रोल रूम में बने सीसीटीएनएस रूम से शहर के हर चौराहे-तिराहों पर पुलिस की सटीक नजर अपराधियों और उनके कृत्य पर रहती है. छोटा सा भी अपराधी या दुर्घटना अगर कैमरे में कैद होती है तो सीसीटीएनएस रूम में तैनात पुलिसकर्मी संबंधित थाना और कंट्रोल रूम को तुरन्त सूचना देते हैं.सीसीटीएनएस रूम में तीन पाली में काम कर रहे पुलिसकर्मियों की 24 घंटे कैमरे पर नजर रहती है।

ट्रैफिक जाम पर भी रहती है नजर
सीसीटीएनएस रूम से न सिर्फ अपराध बल्कि ट्रैफिक जाम और बेवजह की भीड़ पर भी कैमरों के जरिए पुलिसकर्मी नजर बनाए रखते हैं. जब कभी ट्रैफिक जाम हो जाता है या फिर बेवजह की भीड़ एकत्रित हो जाती है तो उस स्थिति में कंट्रोल रूम के जरिए तुरंत ही संबंधित थानों को सूचना पहुंचाई जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here