युवक कांग्रेस और पुलिस के बीच झड़प, कई कार्यकर्ता हुए घायल

जबलपुर| जबलपुर में युवक कांग्रेस द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ किए जा रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ता और पुलिस में तीखी झड़प हुई । इस झड़प में पुलिस को कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज करना पड़ा । प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ता कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी की सुरक्षा में लगी एसपीजी को केंद्र सरकार द्वारा हटाए जाने का विरोध कर रहे थे। पुलिस ने उन पर वाटर केनन और हल्के बल का प्रयोग भी किया जिसमें कुछ कार्यकर्ता घायल भी हो गए।

अखिल भारतीय कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी की सुरक्षा में तैनात एसपीजी को केंद्र सरकार द्वारा हटाने के फैसले को लेकर काग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर हल्ला बोल दिया है। जबलपुर में युवक कांग्रेस द्वारा नरेंद्र मोदी और अमित शाह के विरोध में मालवीय चौक पर प्रदर्शन किया गया और केंद्र सरकार का पुतला दहन किया गया। युवक कांग्रेस के इस प्रदर्शन को रोकने जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने व्यापक इंतजाम किये थे। कांग्रेस कार्यकर्ता केंद्र सरकार द्वारा सोनिया गांधी और राहुल गांधी की सुरक्षा में लगी एसपीजी को हटाने का विरोध कर रहे थे। विरोध स्वरूप जब कार्यकर्ता केंद्र सरकार का पुतला जलाने का प्रयास कर रहे थे तो पुलिस ने युवक कांग्रेस कार्यकर्ताओं से पुतला छुड़ाने की कोशिश की इसी बीच कार्यकर्ता उत्तेजित हो गए। पुलिस के कार्यकर्ताओं को रोकने का प्रयास के दौरान जमकर झड़प भी देखने को मिली। उत्तेजित कार्यकर्ताओ को रोकने के लिए पुलिस ने उन पर वाटर केनन और हल्के बल का प्रयोग भी किया जिसमें कुछ कार्यकर्ता घायल भी हो गए।

युवक कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर सोनिया गांधी और राहुल गांधी की एसपीजी सुरक्षा हटाने साजिश बताते हुए कहा कि जब राजीव गांधी की सुरक्षा व्यवस्था से एसपीजी हटाई गई थी तो उन पर  आत्मघाती  लहमला हुआ। आखिर केंद्र सरकार की ऐसी क्या मंशा है जिसके तहत सोनिया गांधी और राहुल गांधी की सुरक्षा से एसपीजी को हटाया गया है। युवक  कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर उन्होंने फैसला नहीं बदला तो आने वाले दिनों में युवक कांग्रेस पूरे प्रदेश में केंद्र सरकार के खिलाफ अर्थी जुलूस निकालेगी।