जबलपुर। एटीएम का क्लोन बनाकर लोगो के खाते से रु निकालने वाले राष्ट्रीय स्तर गिरोह का जबलपुर पुलिस ने खुलासा करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।पुलिस ने प्रतापगढ़ निवासी एक युवक को गिरफ्तार किया है जबकि 6 आरोपी अभी भी फरार है।पुलिस के मुताबिक अधारताल निवासी 4-1-2020 को जनार्दन सिंह ठाकुर लिखित शिकायत की थी कि 26-8-19 को 11-30 बजे अधारताल के पीएनबी एटीएम जब रु निकाल रहा था तभी एक लडका एटीएम के अंदर आया एवं बाजू वाले एटीएम के पास खडा होकर गौर से देखने लगा कुछ देर बाद उसकी मदद की बात कर एटीएम ले लेता है।बाद ने जब रु नही निकलते है तो एटीएम वापस कर देता है।अगले दिन जनार्दन को मैसेज आता है कि उसके खाते से 20 हजार, 5 हजार , 20 हजार, 5 हजार कुल 50 हजार रूपये निकाले जाने के मैसिज थे।इसी तरह 5-1-2020 को विक्रांत शर्मा ने पुलिस को लिखित शिकायत की थी कि उसके पिता राजेन्द्र कुमार शर्मा का अधारताल स्थित एसबीआई बैंक में एकाउंट है, उसके पिता इंदौर गये हुये थे जहॉ से पिता ने दिनॉक 26-12-19 को फोन कर बताया कि उनके मोबाईल में एकांउट से 26 हजार रूपये निकल का मैसिज आया है।संदिग्ध लोगों की शिकायत के बाद एसपी ने आरोपियों को गिरफ्तार करने टीम गठित की।

 गठित ठीम के द्वारा संदिग्धों के फुटेज प्राप्त किये गये, तथा अधारताल, पनागर क्षेत्र में फुटेज के आधार पर पतासाजी की जा रही थी, दौरान पतासाजी के विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि पनागर में एक शिफ्ट कार जिसका रजिस्ट्रेशन नम्बर एम.एच. 03 बीसी  9998 है में 5-6 लोग जो बाहर के रहने वाले हैं, संदिग्ध  लोग खडे हुए है, सूचना पर तत्काल टीम के द्वारा दबिश दी गयी, मुखबिर के बताये नम्बर की कार में एक व्यक्ति बैठा हुआ मिला, जिसने पूछताछ पर अब्दुल कलाम निवासी  सगरा सुंदरपुर थाना लालगंज अझारा जिला प्रतापगढ उ.प्र. बताया जा रहा है पुलिस ने कार की तलाशी ली गयी तो कार में एक लेपटॉप, ए0टी0एम0 स्वाईप मषीन, 32 ए0टी0एम0 कार्ड, 02 मोबाईल रखे हुये मिले, संदेह होने पर अब्दुल कलाम को थाना अधारताल लाया गया एवं सघन पूछताछ की गयी तो अपने साथी आरिफ खान  , ओम प्रकाष जयसवाल , सैय्यद खान उर्फ षहजाद, जाहिद अली , वसीम,  नसीरूद्दीन  सभी निवासी   जिला प्रतापगढ (उ0प्र0) के साथ मिलकर एटीएम का क्लोन तैयार कर, क्लोन किये गये हुये एकटीएम से रूपये निकालना स्वीकार किया।