Jabalpur- सीएम ने अशोक और माला के घर खाया पोहा-भजिया, की चाय की फरमाइश

जबलपुर, संदीप कुमार। “क्या शानदार पोहा भजिया बनाया है आपने माला जी, बहुत खूब। खाकर मजा आ गया, क्यों राकेश सिंह जी” यह शब्द थे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) के, जो जबलपुर दौरे के दौरान अचानक अशोक और माला चौधरी के घर पहुंच गए।

महगवां में रहनेवाले अनुसूचित जाति वर्ग के अशोक और माला संबल योजना, उज्ज्वला योजना एवं आयुष्मान भारत योजना के हितग्राही हैं। सीएम आज उनके घर जा पहुंचे और नाश्ते के बाद कहा “अब नाश्ता हो गया है, एक-एक चाय भी हो जाए।” सीएम शिवराज सिंह चौहान का इस तरह का अंदाज उस वक्त नजर आया जब वह डुमना से लौटते वक्त महगवां गांव के अशोक चौधरी के घर में रूके। पेशे से अशोक ड्रायवर है और उनकी पत्नी माला चौधरी शासन की विभिन्न योजनाओं की हितग्राही हैं। वो महिला स्व-सहायता समूह से भी जुड़ी हैं। इसी की जानकारी लेने मुख्यमंत्री आज उनके घर पहुंचे जहां पर चाय-नाश्ता कर उन्होंने अशोक चौधरी और उनकी पत्नी माला से हाल-चाल पूछा। चाय-नाश्ते के दौरान मुख्यमंत्री खासे मजाक के मूड में थे। उनके पास बैठे सासंद राकेश सिंह, केंट विधायक अशोक रोहाणी और भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे से सीएम ने कहा कि नाश्ता तो बहुत बढ़िया था, अब एक-एक चाय और हो जाए। सीएम के यह कहने के बाद सभी जोर-जोर से हंसने लगे और वहां का माहौल खुशनुमा हो गया। मुख्यमंत्री के आने से न  सिर्फ माला और अशोक, बल्कि पूरे गांव में उत्साह का माहौल रहा।

इलाज होगा और पढ़ाई भी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अशोक-माला चौधरी के पूरे परिवार के बारे में हाल-चाल जाना। इस दौरान मालूम चला कि माला चौधरी का बेटा अनुराग चौधरी बीमारी के कारण आगे पढ़ नहीं आया और मां-बाप के पास इतना पैसा नहीं था कि वह उसका इलाज करा सकें। मुख्यमंत्री ने परिवार को आश्वासन दिया कि अनुराग का इलाज होगा और उसकी पढ़ाई भी शुरू कराई जाएगी।