जबलपुर में शीतलहर का कहर जारी, फसलों को पाला लगने का खतरा बढ़ा

जबलपुर। शहर में शीतलहर की वजह से कड़ाके की ठंड पड़ रही है. लोग दिन में भी शरीर को पूरी तरह से ढक कर चल रहे हैं।  सबसे ज्यादा बुरा असर शहर के बाहरी इलाकों का है जहां तापमान शून्य के करीब पहुंच गया है।

जबलपुर में शून्य के करीब पहुंचा

तापमान शहर के ग्वारीघाट के मैदान में ओस की बूंदे जमी हुई हैं. आसपास खड़ी कारों पर ओस बर्फ में तब्दील हो गई है. शीतलहर की वजह से लोग परेशान हैं. खासकर बाहरी इलाकों में खुले आसमान के नीचे रहने वाले लोग ठंड सहन नहीं कर पा रहे है. इसके साथ ही कड़ाके की ठंड की वजह से फसलों पर पाला पड़ने लगा है. शहर के आसपास मटर की फसल बुरी तरह से प्रभावित हो रही है. साथ ही दूसरी सब्जियों पर भी इसका बुरा असर पड़ रहा है. यदि ठंड इसी तरीके से जारी रही तो फसलें खराब होने की संभावना है. जिससे एक बार फिर लोगों को महंगी सब्जियां खरीदने के लिए मजबूर होना पड़ेगा.वहीं मौसम विभाग का अनुमान है कि एक बार फिर 31दिसंबर से लेकर 2 जनवरी तक मौसम खराब होगा और बारिश होने की संभावना है. यदि बारिश होती है तो ठंड और तेजी से अपना प्रकोप दिखाएगी.