रिश्वत मांग रहा कंपाउंडर चढ़ा लोकायुक्त के हत्थे, कैदी के इलाज के लिए मांगे रुपये

जबलपुर,डेस्क रिपोर्ट। मंडला की जेल में विचाराधीन कैदी के बीमार होने पर उपचार के लिए जेल कम्पाउंडर द्वारा मांगी जा रही 7 हजार रुपए की रिश्वत भारी पड़ गई। लोकायुक्त पुलिस जबलपुर में हुई शिकायत के बाद लोकायुक्त टीम ने कम्पाउंडर को रिश्वत लेत हुए रंगे हाथ ट्रेप किया है। जेल ने पीड़ित से 5 हजार रुपए जेलर के नाम पर और 2 हजार अपने लिए रिश्वत मांगी थी। लोकायुक्त निरीक्षक  घनश्याम सिंह मर्सकोले एवं कमल सिंह उईके के अनुसार जंतिपुर तहसील जिला मंडला निवासी कंछेदी पटेल ने शिकायत में बताया कि उसके बहनोई संजय सिंगौर एक मामले में जिला जेल मंडला में निरूद्ध हैं।

भिंडी लूट की मची होड़! हाईवे पर सब्जी से भरा पिकअप पलटा तो लोग मिनटों में लूट ले गए भिंडी की 70 बोरियां

कैदी संजय सिंगौर के पेट में 13 एमएम की पथरी है, जिसके कारण उन्हें बहुत तकलीफ थी। जीजा का उपचार कराने के लिए मनोज डोंगरे कम्पाउंडर जि़ला जेल मंडला 7 हजार रुपयों की मांग कर रहे हैं। शिकायत के बाद लोकयुक्त की टीम ने रणनीति तय की और मनोज डोंगरे कम्पाउंडर को 7 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया। लोकायुक्त की टीम ने मौके पर कार्रवाई की है।