कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर लगाया भेदभाव का आरोप, धरना दिया रैली निकाली

जबलपुर, संदीप कुमार। जब तक प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी तब तक सभी विधानसभाओं में बिना भेदभाव के ना सिर्फ विकास कार्य हो रहे थे, बल्कि स्वीकृत भी किए जा रहे थे। पर जैसे ही भाजपा की सरकार प्रदेश में पुनः आई तो कांग्रेस विधायको की विधानसभा में विकास कार्यो को पूरी तरह से रोक दिया गया। कांग्रेस ने ये आरोप अपने विशाल धरने के दौरान लगाया।

पूर्व विधानसभा के 21 वार्डो की जनता और कार्यकर्ताओं ने दिया धरना
मध्य प्रदेश के पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया की अगुवाई में शहर के सिविक सेंटर में 21 वार्डों की जनता और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विशाल धरना दिया। इस दौरान पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे सहित कांग्रेस के कई विधायक भी मौजूद रहे। अपने इस आंदोलन में पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि निगम प्रशासन और राज्य सरकार कांग्रेस के साथ भेदभाव कर रही है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार में पूर्व विधानसभा में जितने भी विकास के कार्य स्वीकृत हुए थे उन तमाम कार्यों को निगम प्रशासन ने रोक दिया है।

नगर निगम कर रही है व्यवसायिक संस्था की तरह काम
पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया ने आरोप लगाया कि वर्तमान समय में नगर निगम जबलपुर एक व्यावसायिक संस्था की तरह काम कर रही है। निगम प्रशासन जनता को सुविधाएं देने की वजह सिर्फ टैक्स वसूलने के काम में जुटी हुई है। ताज्जुब की बात तो यह है कि जिन नए वालों को नगर निगम में शामिल किया गया था वह वार्ड आज भी उपेक्षा ग्रसित हैं।

आज सिर्फ नगर निगम को चेतावनी बाद में होगा प्रतिकार
कांग्रेस विधायक और पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया ने अपने इस आंदोलन के जरिए नगर निगम जबलपुर को चेतावनी दी है कि इस आंदोलन का आज सिर्फ आगाज किया गया है। बावजूद इसके अगर फिर भी निगम प्रशासन नहीं चेतता है तो फिर कांग्रेस प्रतिकार करने का रुख अपनाएगी। आज के इस विशाल आंदोलन में पूर्व मंत्री तरुण भनोट, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे ने भी राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला।

मंच पर सब बैठे रहे बिना मास्क लगाए
पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया की अगुवाई में हुए इस विशाल धरना में कांग्रेस के जितने भी दिग्गज नेता थे वह मंच पर बिना मास्क लगाए ही नजर आए। कांग्रेस सचिव सौरभ शर्मा को छोड़ दिया जाए तो पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया, पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कावरे, विधायक विनय सक्सेना, नगर अध्यक्ष दिनेश यादव सहित जितने भी नेता मंच पर थे वह बिना मास्क के बैठे हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here