कांग्रेस ने किया निजी अस्पतालों की मनमानी का विरोध, कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा

जबलपुर, संदीप कुमार। शहर में बढ़ते कोरोना मामले व आए दिन हो रही कोरोना से मौत को लेकर व कोरोना रोकथाम में प्रशासनिक अमले की हीलाहवाली देखते हुए कांग्रेस कमेटी व पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया द्वारा संभागीय कार्यालय में कमिश्नर महेशचन्द्र चौधरी को ज्ञापन दिया गया। इसमें कहा गया है कि एक तरफ शहर में कोरोना का बढ़ता प्रकोप है वहीं दूसरी तरफ निजी अस्पतालों की मनमानी के चलते कोरोना काल में आर्थिक संकट से जूझ रही शहर की जनता दोहरी मार झेल रही है। सरकारी अस्पतालों की बिगड़ती व्यवस्था को देखते हुए आम नागरिक इलाज कराने निजी अस्पताल जाने की सोचता है या इलाज कराने अस्पताल में भर्ती हो जाता है तो वहाँ कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी को भी निजी अस्पताल अवसर मान कर गरीब जनता से लाखों रुपये वसूल रहे है।

कांग्रेस ने अपने ज्ञापन में कहा है कि प्रशासन मूकदर्शक बनकर निजी अस्पतालों का साथ दे रहा है। वहीं शासन द्वारा अपने फायदे के लिए लोगो की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। एक तरफ हाई कोर्ट ने निजी अस्पतालों को कोरोना मरीजों के इलाज को लेकर सामान्य चार्जे लिए जाने को कहा है, मुख्यमंत्री भी घोषणा करते है कि कोई भी निजी अस्पताल कोरोना इलाज का 40% लेगा लेकिन निजी अस्पताल न्यायालय की अवेहलना करते हुए लाखों रुपये लूट रहे है, जिसे कांग्रेस कभी बर्दास्त नही करेगी। कांग्रेस ने कहा कि वो शहर की जनता को लुटने नहीं देगी। कांग्रेस कमेटी व पूर्व मंत्री ने संभागीय कमिश्नर से इस विषय मे उचित कार्रवाई करने की मांग की है।