विधायक प्रहलाद लोधी के मामले में सुप्रीम कोर्ट लड़ाई लड़ेगी सरकार!

जबलपुर| पन्ना जिले के पवई विधानसभा से भाजपा विधायक प्रह्लाद सिंह लोधी की दो साल की सजा पर हाई कोर्ट के स्टे के बाद अब प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट जाने का रूख कर रही है। ये संकेत दिए है राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने।जबलपुर में आज मीडिया से बात करते हुए राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने प्रह्लाद सिंह लोधी मामले में कहा है कि अब जो कुछ होगा वो सुप्रीम कोर्ट में होगा और आगे जो भी सुप्रीम कोर्ट से आदेश मिलेगा वो सर्वमान्य होगा।

राज्यसभा सांसद की माने तो अब ये पूरी तरह से कानूनी सवाल है इसलिए इस विषय मे कुछ भी बोलना उचित नही है।इधर नोटबन्दी को लेकर राज्यसभा सांसद विवेक तंखा का कहना था कि तीन साल पहले हुई नोटबन्दी देश के लिए शुभ संकेत नही है। नोटबन्दी का फैसला जल्दबाजी और मार्केटिंग के लिए लिया गया फैसला है जो कि किसी भी तरह से जनता के हित मे नही था।राज्यसभा सांसद ने कहा कि देश को बर्बाद करने की आज वर्षगाठ है आज देश की अर्थव्यवस्था जीरो पर आ गई है बेरोजगार को रोजगार नही मिल रहा है बाजार पूरी तरह से ठप्प हो गया है।

वही मध्यप्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति का प्रह्लाद सिंह लोधी मामले में जिस तरह से बयान आया है उसको देखते हुए माना जा रहा है कि प्रदेश सरकार प्रहलाद सिंह की सदस्यता बहाली के मूड में बिल्कुल नही है।उनका कहना था कि मामला अब सब ज्यूडिशियल हो गया है इंतजार कीजिए।वही प्रह्लाद सिंह की सदस्यता पर लगी रोक को लेकर विधानसभा अध्यक्ष का कहना था कि मैंने कोई जल्दबाजी नही की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here