गायों की दुर्दशा को लेकर राजगढ़ में कांग्रेस का हल्ला बोल, पूर्व ऊर्जा मंत्री सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ बैठे धरने पर

पूर्व ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह के नेतृत्व में सैकड़ो कांग्रेसियों (Congress) ने एक साथ कलेक्टर कार्यालय का घेराव कर धरना प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की।

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के राजगढ़ (Rajgarh) में गौ शाला बनाने के बाद भी जहां सैकड़ों गायें बारिश के समय में सड़क पर भूखे मरने को मजबूर है। जिसको लेकर बुधवार को पूर्व ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह (Former Energy Minister Priyavrat Singh) के नेतृत्व में सैकड़ो कांग्रेसियों (Congress) ने एक साथ कलेक्टर कार्यालय का घेराव कर धरना प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की।

यह भी पढ़ें…लचर अनाज भंडारण व्यवस्था को लेकर हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से मांगा एक्शन प्लान, 23 अगस्त तक पेश करने के आदेश

कलेक्टर कार्यालय का किया घेराव

कांग्रेस के इस प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने कलेक्टर कार्यालय परिसर के गेट पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात कर दिए। पूर्व ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रकाश पुरोहित, राजगढ़ विधायक बापू सिंह तंवर, ब्यावरा विधायक रामचन्द्र दांगी के साथ सैकड़ो कांग्रेसियों ने खिलचीपुर नाके से रैली निकालते हुए कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। और वहां जमकर हंगामा करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। कलेक्टर के मौजूद ना होने पर कांग्रेसियों ने नाराजगी जताई और कहा कि हमारे आंदोलन की सूचना कलेक्टर को पूर्व से दी गई थी और उन्हें गायों की दुर्दशा को लेकर ज्ञापन सौंपा जाना था। जिससे नाराज होकर पूर्व ऊर्जा मंत्री, कलेक्टर कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गये ।

गायों की दुर्दशा को लेकर राजगढ़ में कांग्रेस का हल्ला बोल, पूर्व ऊर्जा मंत्री सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ बैठे धरने पर

रैली के साथ कलेक्टर कार्यालय के बाहर पहुचे और ज्ञापन लेने के लिये जब राजगढ़ कलेक्टर के मौजूद ना होने पर कांग्रेसियों ने नाराजगी जताई। और कहा कि हमारे आंदोलन की सूचना कलेक्टर को पूर्व से दी गई थी और उन्हें गायों की दुर्दशा को लेकर ज्ञापन सौंपा जाना था। जिससे नाराज होकर पूर्व ऊर्जा मंत्री, कलेक्टर कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गये। और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी कर हंगामा किया और कलेक्टर मुर्दाबाद के नारे भी लगाएं। बढ़ते हंगामे को देख एडीएम कमल नागर पूर्व ऊर्जा मंत्री से बात की और उन्हें आश्वसन दिया कि जल्द व्यवस्था सुधारी जाएगी। जिसको लेकर प्रियव्रत सिंह ने कहा कि कांग्रेस शासन में बनाई गई गौशालाओं में ताले लगे हुए हैं और सरकार इन गौशालाओं को अनुदान भी नहीं दे रही। सैकड़ों गायें राजगढ़ जिले में सड़कों पर घूम रही है और दुर्घटनाओं में उनकी मौत हो रही है। बारिश में की ठीठुरती हुई गायें सड़कों पर भूखे मर रही है। वहीं गौशालाओं को तत्काल अनुदान देने एवं गायों की दुर्दशा को तत्काल रोकने की मांग की गई है। प्रियव्रत सिंह ने इसको लेकर प्रशासन को एक सप्ताह में व्यवस्था सुधाने को लेकर कहा है। नही तो 7 दिन बाद राजगढ़ में गायों को लेकर एक बाद आंदोलन किया जाएगा

यह भी पढ़ें…9 साल के मीत बने एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड ग्रेंड मास्टर, एक मिनिट में सबसे अधिक संस्कृत मंत्रों का उच्चारण