जबलपुर, संदीप कुमार। कोरोना वायरस से निपटने के लिए वैक्सीन बन गई है और देश-प्रदेश के साथ अब ये वैक्सीन संस्कारधानी जबलपुर सहित रीवा और शहडोल संभाग को भी मिल गई है। बुधवार को मुम्बई से नियमित फ्लाइट्स से वैक्सीन जबलपुर एयरपोर्ट पहुची और फिर वहा से रीजनल डायरेक्टर आफिस में स्थित वाक एंड फ्रिज में रखी गई। वैक्सीन यहीं से रीवा और शहडोल संभाग को सप्लाई होगी।

13 बॉक्स में 1 लाख 51 हजार डोज आए 
जानकारी के मुताबिक स्पाइस जेट की नियमित फ्लाइट से बुधवार की रात कोरोना वैक्सीन पहुँची, इस दौरान स्वास्थ्य विभाग के तमाम अधिकारी वहां मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि जबलपुर आए वैक्सीन के 93 हजार डोज जबलपुर संभाग को मिलेंगे जबकि 60 हजार डोज  रीवा और शहडोल संभाग को भेजे जाएंगे।

वैक्सीन लेने शाम को ही आ गई थी सभी जिलों से वैक्सीन वैन
हेल्थ डिपार्टमेंट के रीजनल डायरेक्टर डॉ वाई.एस, ठाकुर के बताते है कि कोरोना वैक्सीन के लिए जानकारी पहले से ही संभाग के सभी जिलों सहित रीवा और शहडोल को भी दे दी गई थी। लिहाजा वैक्सीन लेने के लिए शाम को ही हर जिले से वैक्सीन वैन जबलपुर पहुँच गई।

सशस्त्र पुलिस की निगरानी में भेजी जा रही है वैक्सीन
दूसरे जिलों से वैक्सीन लेने जबलपुर पहुचीं वैन में सशस्त्र पुलिस भी तैनात की गई है जो कि अपनी निगरानी में वैक्सीन लेकर जाएंगी, हर वैक्सीन वैन में दो सशस्त्र जवानों की ड्यूटी लगाई गई है। सभी जिलों को क्षेत्रीय संचालक स्वास्थ्य सेवा कार्यालय से बांटी जा रही है।

एक नजर कोविड वैक्सीन पर
*16 जनवरी से प्रारंभ होगा टीकाकरण अभियान
*पहले चरण में 22000 से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मचारियों को लगाई जाएगी जबलपुर में वैक्सीन
* पहला चरण 5 से 7 दिन में पूरा होने के बाद दूसरे चरण के टीकाकरण की दिनांक की जाएगी घोषित                               *दूसरे चरण में फ्रंटलाइन अधिकारी जो कि पुलिस, नगर निगम और राजस्व के होंगे
*तीसरे चरण में जिले के 50 साल से ज्यादा आयु वाले नागरिक को वैक्सीन का लाभ मिलेगा
*पहले चरण के टीकाकरण अभियान में करीब ढाई सौ से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मी प्रशिक्षित किए गए हैं                        *टीकाकरण केंद्र में पुलिस की भी मौजूदगी रहेगी
*जबलपुर जिले में सरकारी व निजी अस्पतालों को मिलाकर पहले चरण के लिए 41 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं