बारिश के कारण कई जगह रावण दहन करने में आई परेशानी, पढ़े पूरी खबर

आज सुबह से बादल छाए हुए हैं। ऐसे में कभी भी अचानक बारिश हो सकते हैं और पुतले पानी में भीग सकते हैं।

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश में बारिश का अलर्ट हैं लिहाजा मैदानों में रावण-कुंभकर्ण (Ravana-Kumbhakarna) के पुतलों को पानी में भीगने से बचाने के लिए आयोजकों ने तरीका इजाद किया है। रावण दहन से पहले पुतले पानी में ना भीगे इसके लिए आयोजकों ने पुतलों को पॉलीथिन से कवर कर दिया है। जबलपुर के राँझी में आज दशहरा मनाया जा रहा है, पर बारिश के बादल भी मंडरा रहे हैं इसके लिए आयोजकों ने रावण और कुंभकरण के पुतलों को पॉलिथीन से कवर किया है।

यह भी पढ़े…हरियाणा के यमुनानगर में लोगों पर गिरा जलता हुआ रावण, कई लोग घायल

उप नगरीय क्षेत्र राँझी में सनातन धर्म सभा के तत्वधान में बीते 30 सालों से रावण दहन का आयोजन किया जा रहा है। इस मर्तबा भी 40 फुट के रावण और कुंभकरण बनाए गए हैं। इंजीनियरिंग कॉलेज में दशहरा के दौरान रावण-कुंभकर्ण के पुतलों को पॉलिथीन से ढक दिया गया हैं। आज सुबह से बादल छाए हुए हैं। ऐसे में कभी भी अचानक बारिश हो सकते हैं और पुतले पानी में भीग सकते हैं।

यह भी पढ़े…पापांकुशा एकादशी व्रत करने से नष्ट होंगे पाप, मिलेगा लाभ, इन बातों का रखें खास ख्याल, जानें यहाँ

बता दें कि मंगलवार को जबलपुर के ग्वारीघाट में संपन्न हुए पंजाबी- हिंदू एजुकेशन के दशहरा में अचानक हुई बारिश के चलते रावण और कुंभकरण के पुतले पानी में भीग गए थे, इसके बाद आयोजकों को कड़ी मशक्कत करना पड़ा रावण दहन करने में। यही वजह है कि बारिश में मंगलवार जैसी स्थिति ना बने इसके लिए आयोजकों ने पॉलिथीन से रावण-कुंभकर्ण को कवर किया है।